आज हिसार पहुंचेंगे अमित शाह, कार्यकर्ता सम्मेलन में होंगे शामिल

चार आजाद और तीन इनेलो विधायक भाजपा के संपर्क में

हरियाणा: भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह आज सोमवार को हरियाणा दौरे पर हिसार आ रहे हैैं। यहां वह हिसार, रोहतक व सिरसा लोकसभा क्षेत्र के कार्यकर्ता सम्मेलन मे शामिल होंगे। इस दौरे से हरियाणा की राजनीति में नए समीकरण सामने आ सकते हैं। अमित शाह वह हिसार, सिरसा और भिवानी-महेंद्रगढ़ लोकसभा सीटों के कार्यकर्ताओं के रूबरू होंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कुरुक्षेत्र दौरे के तुरंत बाद हिसार आ रहे अमित शाह दूसरे दलों के विधायकों में सेंधमारी कर सकते हैैं। विधानसभा में सरकार को बिना शर्त समर्थन दे रहे कुछ आजाद विधायक तथा कुछ इनेलो विधायक भाजपा का दामन थाम सकते हैैं।

भाजपा प्रभारी डाॅ. अनिल जैन, मुख्यमंत्री मनोहर लाल, प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला और प्रांतीय संगठन मंत्री सुरेश भट्ट की टीम इन विधायकों को इस राजनीतिक आपरेशन के लिए तैयार कर चुकी है। इनेलो के कई विधायक अपने राजनीतिक भविष्य को लेकर असमंजस में हैैं।

कुछ विधायक दुष्यंत चौटाला के नेतृत्व वाली जननायक जनता पार्टी के संपर्क में हैैं तो कुछ भाजपा को अपना सुरक्षित राजनीतिक ठिकाना मान रहे हैं। कांग्रेस को लेकर उनमें ऊहापोह की स्थिति है। ऐसे में लोकसभा चुनाव से ठीक पहले उनके सामने भाजपा का दामन थामने का विकल्प खुला है। बताया जाता है कि भाजपा भी अपनी पार्टी के कई विधायकों और सांसदों का टिकट काटने की तैयारी में है।

हर एक सीट पर भाजपा की निगाह

लोकसभा और विधानसभा चुनाव में भाजपा की निगाह हर एक सीट पर है। लिहाजा उसे जीतने वाले चेहरों की तलाश है। ऐसे में वह इन विधायकों को अपने साथ जोड़ने का कोई मौका नहीं चूकना चाहती है। विधायकों को इस ‘आपरेशन’ के लिए तैयार करने में कुछ मंत्रियों ने भी अहम भूमिका निभाई है। यह अलग बात है कि भाजपा में शामिल होने वाले यह विधायक खुद इन मंत्रियों के लिए भविष्य में टिकट को लेकर परेशानी खड़ी कर सकते हैैं।

अमित शाह की मौजूदगी में इनेलो के दो से तीन विधायकों के भाजपा में शामिल होने की चर्चाएं हैैं। इनमें से एक विधायक की खबर तो पिछले दिनों मीडिया में वायरल भी हो चुकी, लेकिन इन विधायक ने उसे नकारा नहीं है। इसके अलावा दो से तीन निर्दलीय विधायक भी भाजपा में शामिल हो सकते हैं। विधानसभा में कलायत से जयप्रकाश, पुन्हाना से रहीसा खान, पुंडरी से दिनेश कौशिक, समालखा से रविंद्र मछरौली और सफीदों से जसबीर देसवाल आजाद विधायक हैैं।

जयप्रकाश जींद उपचुनाव के दौरान खुलकर कांग्रेस के साथ चले गए। बाकी चार विधायकों ने भाजपा को समर्थन दे रखा है। रहीसा खान हरियाणा वक्फ बोर्ड के चेयरमैन हैैं। दिनेश कौशिक करनाल लोकसभा सीट से टिकट मांग रहे हैैं। रवींद्र मछरौली समलाखा से टिकट के दावेदार हैैं। ये विधायक भाजपा के लिए माहौल बनाने में मदद कर सकते हैैं।

Back to top button