पूर्व आर्मी चीफ के पास पहुंचे अमित शाह, जानें क्या है वजह

नई दिल्ली। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने आगामी लोकसभा चुनावों के लिए कमर कस ली है। यही वजह है कि अब उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर मोदी सरकार द्वारा किए गए विकास कार्यों की जानकारी जनता तक पहुंचाने का फैसला किया है।

बता दें कि अमित शाह ने इसके लिए घर-घर जाकर जन संपर्क का रास्ता चुना है। इस अभियान को भाजपा ने संपर्क फॉर समर्थन नाम दिया है। अमित शाह ने आज इस अभियान की शुरुआत पूर्व सेनाध्यक्ष दलबीर सुहाग से उनके दिल्ली स्थित आवास पर मुलाकात कर की। इसके बाद अमित शाह संविधान विशेषज्ञ सुभाष कश्यप के घर भी जाएंगे। बताया जा रहा है कि संपर्क फॉर समर्थन अभियान के तहत अमित शाह करीब 50 लोगों से मुलाकात करेंगे।

भाजपा अध्यक्ष के अलावा भाजपा की करीब 4000 कार्यकारिणी सदस्य जिनमें मुख्यमंत्री, केन्द्रीय मंत्री, पंचायत सदस्य शामिल हैं, उन्हें भी मोदी सरकार के पिछले 4 सालों में किए गए विकास कार्यों को जनता तक पहुंचाने के काम में लगाया गया है।

भाजपा की कोशिश देश के करीब 1 लाख ऐसे लोगों तक पहुंचने की है, जो कि अपने क्षेत्र के बड़े नाम हैं। भाजपा की इस कोशिश को आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारियों से जोड़कर देखा जा रहा है। बता दें कि मोदी सरकार पर विपक्ष का आरोप है कि सरकार ने अपने कार्यकाल के दौरान देश के विकास के लिए कुछ खास नहीं किया। यही वजह है कि जब आम चुनावों में 1 साल से भी कम समय रह गया है, तो भाजपा ने मोदी सरकार के कामकाज को देश की जनता तक पहुंचाने का फैसला किया है। जहां भाजपा जमीनी स्तर पर कार्यकतार्ओं को इस काम में लगाए हुए है, वहीं पार्टी के कई बड़े नेता भी प्रचार-प्रसार के जरिए सरकार के कामों को जनता तक पहुंचाने का प्रयास कर रहे हैं।

new jindal advt tree advt
Back to top button