बच्चों में कुपोषण के खिलाफ जंग में अमिताभ शामिल

नई दिल्ली। बॉलीवुड महानायक अमिताभ बच्चन कुपोषण और शिशु मृत्युदर के मुद्दों को हल करने के लिए एक अभियान से जुड़े हैं। जीएसके कंज्यूमर हेल्थकेयर ने हॉर्लिक्स मिशन पोषण लॉन्च किया है, जो बच्चे के जीवन के पहले हजार दिनों पर ध्यान केंद्रित होगा।

यह बच्चों के संज्ञानात्मक विकास, शारीरिक विकास और प्रतिरक्षा के लिए महत्वपूर्ण है।यह अभियान सरकार के राष्ट्रीय पोषण अभियान का समर्थन करता है। बिग बी वर्ष भर योजनाबद्ध कई गतिविधियों का हिस्सा होंगे, जिसमें 12 घंटे के लाइव टेलीथॉन और स्कूलों और गांवों में जागरूकता शिविर शामिल हैं।

अमिताभ ने सोशल मीडिया के माध्यम से अपने सहयोग की घोषणा की।उन्होंने ट्वीट किया, “क्या आप जानते थे कि हमारे देश भारत में विश्व के 50 प्रतिशत बच्चे कुपोषित हैं। हमें अब कुपोषण के खिलाफ लड़ाई शुरू करने की जरूरत है। मैं कुपोषण से लड़ने के लिए सबसे बड़े आंदोलन में शामिल होने से पहला कदम उठा रहा हूं।

“यह ट्वीट उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत और वुमेन एंड चाइल्ड डेवलपमेंट मिनिस्टर मेनका गांधी को टैग किया।जीएसके कंज्यूमर हेल्थकेयर के प्रबंध निदेशक नवनीज सलूजा ने कहा, “हमारी पहल का एकमात्र लक्ष्य है – ग्रामीण और शहरी भारत में पोषण संबंधी आवश्यकताओं की को बढ़ावा देने में मदद करना।

हम भाग्यशाली हैं कि हमारे देश में कुपोषण के मुद्दे को संबोधित करने के लिए अमिताभ बच्चन इस महत्वपूर्ण यात्रा के भागीदार बने।”सलूजा ने कहा कि वे ‘कुपोषण के आसपास जन जागरूकता को बढ़ाने और नागरिक उन्मूलन के साथ अपने उन्मूलन के लिए काम करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

new jindal advt tree advt
Back to top button