दिवाली पर ऊंटनी के दूध से बनी चॉकलेट्स को बाजार में लॉन्च करेगा अमूल

दिवाली के मौके पर आपके त्योहार को और खास बनाने के लिए अब ऊंटनी के दूध से बनी चॉकलेट को बाजार में लाने की तैयारी की जा रही है। अमूल ब्रांड की मार्केटिंग करने वाले गुजरात कोऑपरेटिव मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन ने इस दिवाली पर ऊंटनी के दूध से बनी चॉकलेट को बाजार में लांच करने की तैयारियां पूरी कर ली है।

इस बात की पुष्टि करते हुए फेडरेशन के एमडी आरएस सोढ़ी ने कहा कि इन चॉकलेट्स को दीवाली से पहले बाजार में उतार दिया जाएगा। इसे अमूल कैमल मिल्क चॉकलेट्स के नाम से जाना जाएगा। इन चॉकलेट्स के प्रॉडक्शन के लिए कच्छ से दूध की आपूर्ति की जाएगी और इनका निर्माण अमूल के आणंद स्थित संयंत्र में किया जाएगा।

हर महीने एक हजार टन का उत्पादन

सोढ़ी के मुताबिक अमूल ने आणंद में प्रस्तावित संयंत्र से प्रतिमाह 1 हजार टन के उत्पादन का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने बताया कि चॉकलेट्स के प्रोडक्शन के बाद प्रथम चरण में इसे देश भर की दो लाख दुकानों के माध्यम से बाजार में उपलब्ध कराया जाएगा।

FSSAI ने भी दी स्वीकृति
इस चॉकलेट्स के प्रॉडक्शन के लिए जीसीएमएमएफ की सदस्य कच्छ डिस्ट्रिक्ट कोऑपरेटिव मिल्क प्रड्यूसर यूनियन लिमिटेड द्वारा कच्छ में मिल्क प्रोसेसिंग प्लांट की स्थापना की जा रही है जिसका काम जल्द ही शुरु कर दिया जाएगा।

वहीं एफएसएफएआई ने भी पिछले साल ऊंटनी के दूध को तय मानकों के आधार पर फूड प्रॉडक्ट की मान्यता देते हुए इसकी बिक्री और व्यापार की स्वीकृति दी है। गौरतलब है कि इन चॉकलेट्स के निर्माण के लिए पिछले 2 हफ्तों में अमूल को 10 हजार लीटर दूध की आपूर्ति की जा चुकी है।

1
Back to top button