होटल ग्रैंड हयात का एक कर्मचारी पाया गया कोविड-19 से संक्रमित

मेलबर्न पार्क पर होने वाले मैचों को स्थगित कर दिया

नई दिल्ली: ऑस्ट्रेलियाई ओपन पृथकवास कार्यक्रम के दौरान ऑस्ट्रेलियाई ओपन टेनिस टूर्नामेंट से जुड़े होटल ग्रैंड हयात में सहयोगी अधिकारी के रूप में काम कर रहे एक 26 वर्षीय व्यक्ति का कोरोना वायरस के लिए परीक्षण पॉजीटिव आया है।

विक्टोरिया प्रांत के प्रधानमंत्री डेनियल एंड्रयूज ने कहा कि इस कर्मचारी ने स्वैच्छिक अग्निशमन अधिकारी के तौर पर एक समारोह में हिस्सा लिया था। एंड्रयूज ने कहा, ‘हम यह मानकर चल रहे हैं इस व्यक्ति ने अन्य को भी संक्रमित किया है। हमें भरोसा है लोगों को जल्द से जल्द इस बारे में जानकारी मिल जाएगी।’

ग्रैंड हयात उन तीन होटलों में शामिल हैं जिनका उपयोग ऑस्ट्रेलियाई ओपन ने टूर्नामेंट से पहले 1000 से भी अधिक खिलाड़ियों और सहयोग स्टाफ के लिए पृथकवास पर रहने के तौर पर किया गया था।

एंड्रयूज ने कहा कि ग्रैंडस्लैम के कुछ खिलाड़ियों और स्टाफ पर इसका असर पड़ेगा। उन्होंने कहा, ‘खिलाड़ियों और अधिकारियों को मिलाकर 500-600 के आसपास लोग हैं। इसके अलावा आकस्मिक संपर्क में आने वाले लोग हैं। उन्हें परीक्षण नेगेटिव आने तक अलग थलग रहना होगा।’ ऑस्ट्रेलियाई ओपन सोमवार से शुरू होना है लेकिन उसकी तैयारियां बाधित हुई हैं। टेनिस ऑस्ट्रेलिया ने गुरुवार को मेलबर्न पार्क पर होने वाले मैचों को स्थगित कर दिया है।

ऑस्ट्रेलियाई ओपन से पहले यहां विभिन्न अभ्यास टूर्नामेंट खेले जा रहे थे। एंड्रयूज ने कहा कि टेनिस उनके लिए सबसे महत्वपूर्ण मसला नहीं है। उन्होंने कहा, ‘मेरे कहने का मतलब है कि यह हमारे लिए महत्वपूर्ण है लेकिन लोगों का स्वास्थ्य और सार्वजनिक सुरक्षा उससे अधिक महत्वपूर्ण है।’

इस घोषणा से एटीपी कप और पुरुष वर्ग के दो अन्य टूर्नामेंटों के अलावा डब्ल्यूटीए की तीन प्रतियोगिताएं प्रभावित हुई है। अभी 600 से अधिक खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ के आकस्मिक संपर्क में आने वालों में शामिल किया गया है।

टेनिस आस्ट्रेलिया ने बयान में कहा, ‘स्वास्थ्य अधिकारियों ने हमें बताया कि होटल में पृथकवास से जुड़ा एक कर्मचारी कोविड-19 के लिये पॉजीटिव पाया गया है। ऑस्ट्रेलियाई ओपन से जुड़े लोग जो होटल में पृथकवास पर रहे थे उन्हें परीक्षण नेगेटिव आने तक अलग थलग रहना होगा।’ पिछले महीने 1200 खिलाड़ी और कोचिंग स्टाफ आस्ट्रेलिया पहुंचे थे और वे 14 दिन तक पृथकवास पर रहे थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button