अनाधिकृत निर्माणकार्य नहीं हटाए जाने से नाराज एक शख्स ने किया आत्मदाह

प्रशासन को इशारा देने के बाद इस बात को गंभीरता नहीं ली

पुणे।

महाराष्ट्र के पुणे में कर्जत शहर के मुख्य रोड पर अनाधिकृत निर्माणकार्य को वहाँ से हटाये जाने के लिए 28 से 30 जून तक जिलाधिकारी कार्यालय के सामने धरने पर बैठे थे।

लेकिन धरने पर बैठे रहने के बाद भी शख्स तौसीफ हमीम शेख को इंसाफ नहीं मिला तो उन्होने अनाधिकृत निर्माणकार्य नहीं हटाए जाने से नाराज होकर जिलाधिकारी कार्यालय के सामने खुद को जिंदा जला लिया।

प्रशासन को इशारा देने के बाद इस बात को गंभीरता नहीं ली गई, इसलिए यह दुर्घटना घटी। पालकमंत्री राम शिंदे के विधानसभा क्षेत्र में कर्जत स्थित जिलाधिकारी कार्यालय के सामने आत्मदहन करने के बाद सरकारी सिस्टिम का भांडाफोड़ हुआ है।

तौसीफ हमीम ने गुरुवार को जिलाधिकारी कार्यालय के सामने शरीर पर केरोसीन डालकर को खुद को जलाने का प्रयास किया। कुछ ही देर में आग ने रौद्र रुप धारण कर लिया था, जिससे काफी अफरातफरी मच गई थी।

इस दौरान उन्हें काफी बचाने की भी कोशिश की गई। इस घटना में तौसीफ हमीम शेख 80 प्रतिशत जल गए हैं। उनकी तबीयत काफी नाजुक बताई जा रही है।

new jindal advt tree advt
Back to top button