राजनीति

TDP और BJP की खटपट बढ़ी, नायडु बोले-क्या आंध्र भारत का हिस्सा नहीं

इससे पहले बीजेपी और टीडीपी के बीच खटपट की खबर तब आई थी जब केंद्रीय बजट में अरुण जेटली ने आंध्र को कोई विशेष राशि नहीं दी थी

TDP और BJP की खटपट बढ़ी, नायडु बोले-क्या आंध्र भारत का हिस्सा नहीं

बीजेपी और टीडीपी के गठबंधन पर जारी खटपट बढ़ती जा रही है। आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री और तेलुगु देशम पार्टी के मुखिया चंद्रबाबू नायडु ने फिर से बीजेपी और केंद्र के प्रति असंतोष व्यक्त किया है। उन्होंने यह भी कहा है कि आने वाले दो दिनों में वह गठबंधन को लेकर कोई बड़ा फैसला ले सकते हैं।
[responsivevoice_button voice=”Hindi Female” buttontext=”अगर आप पढ़ना नहीं
चाहते तो क्लिक करे और सुने”]
बता दें कि चंद्रबाबु फिलहाल दुबई यात्रा पर हैं और वह अपने सांसदों से कांफ्रेस कॉल के जरिए बात-चीत के दौरान ये बातें कहीं। टीडीपी के सांसद राज्य के बंटवारे के बाद आंध्र के विकास के लिए विशेष राशि नहीं दिए जाने की वजह से बीजेपी से नाराज हैं। और लगातार बीजेपी गठबंधन का विरोध कर रहे हैं। कांफ्रेस कॉल के दौरान गुस्साए नायडु ने पूछा- क्या आंध्र भारत का हिस्सा नहीं है?

इससे पहले बीजेपी और टीडीपी के बीच खटपट की खबर तब आई थी जब केंद्रीय बजट में अरुण जेटली ने आंध्र को कोई विशेष राशि नहीं दी थी। टीडीपी एमपी सुजाना चौधरी ने बताया कि आंध्र के कई प्रोजेक्ट पर केंद्र की नजर नहीं है। जिसमें पोलावरम, कडप्पा स्टील प्लांट सहित विशाखापटनम में रेलवे जोन पर भी केंद्र की नजर नहीं है।

नायडु ने केंद्र के पिछले कुछ दिनों में दिए जा रहे रिस्पॉन्स पर नाखुश हैं और अपने सांसदो से अपना विरोध जारी रखने के लिए कहा है। नायडु टेली-कॉन्फ्रेंस के जरिए अपनी पार्टी के सांसदों के साथ बैठक करेंगे। टीडीपी के कुछ सदस्यों जिसमें मानव संसाधन विकास मंत्री गंता श्रीनिवास राव भी शामिल हैं उनका कहना है कि अगर जरुरत पड़ी तो हम एनडीए से अलग हो जाएंगे।

बता दें कि पिछले दिनों शिवसेना ने भी 2019 का आमचुनाव एनडीए से अलग होकर लड़ने का फैसला लिया है।

Tags
Back to top button