छत्तीसगढ़बड़ी खबरराजनीति

सरकार की बर्खास्तगी से सदमे में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका की मौत

तीस दिन से हड़ताल पर डटे है आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका

सरकार की बर्खास्तगी से सदमे में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका की मौत

रायपुर : छत्तीसगढ़ की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका संघ के अनिश्चितकालीन हड़ताल को 30 दिन पूरे हो चुके है. लेकिन सरकार ने उनकी मांगो पर कोई विचार नहीं किया है. वहीँ इनकी बर्खास्तगी की कार्रवाई शुरू होने से आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं में डर जरुर पैदा हो गया है.

डर भी ऐसा की सरकार की इस कार्रवाई से तीन लोगों की मौत हो गई. जगदलपुर इलाके के आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका को जब बर्खास्तगी की जानकारी मिली तो उनकी सदमे से मौत हो गई. इस घटना के बाद भी सरकार के कान में जू तक नहीं रेंग रही है.

वहीँ रायपुर में अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं के हौसले और बुलन्द होते जा रहे हैं. हड़ताल के तीस दिन पूरे होने के बाद प्रदर्शनकारियों ने अपने हड़ताल को और मजबूत करने का फैसला किया है.

आंगनबाड़ी संघ के प्रांताध्यक्ष ने बताया कि आने वाले दिनों में प्रदेश भर के आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका राजधानी पहुचेंगे जिसके बाद रैली निकाली जाएगी. वहीँ आधे प्रदर्शनकारियों के वापस ड्यूटी पर जाने को लेकर कहा की वे सरकार से डर गए थे जिसके चलते वो वापस चले गए.

गौरतलब है कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका वेतन वृद्धि सहित अन्य मांगों को लेकर लम्बे समय से प्रदर्शन कर रहे हैं लेकिन अभी तक सरकार ने उनकी मांगों पर कोई विचार नहीं किया है.

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *