क्राइमराष्ट्रीय

खफा पति ने दो युवकों को भेजकर पत्नी को मरवा दी दो गोलियां

घायल बहन उसे सनौली रोड शिव चौक पर मिली

पानीपत: पानीपत की न्यू हाउसिग बोर्ड कालोनी के संदीप मखीजा ने पुलिस को शिकायत दी कि 15 साल पहले उसकी बहन रंजना (45) की शादी बापौली के राजकुमार उर्फ राजू के साथ हुई थी। बहन की पति के साथ अनबन चल रही है। कोर्ट में केस चल रहा है। कोर्ट के आदेश पर बहन को घर में एक कमरा मिला हुआ है। बहन ने सुबह काल कर बताया कि उसे दो युवकों ने गोली मार दी है। युवकों ने गोली मारकर कहा था कि उनको राजकुमार (पति) ने भेजा है। बहन ने बताया कि वह ऑटो से पानीपत आ रही है। घायल बहन उसे सनौली रोड शिव चौक पर मिली।

उसने बहन को सामान्य अस्पताल में भर्ती कराया, जहां से डाक्टरों ने जान का खतरा बताकर पीजीआइ रोहतक रेफर कर दिया। बाद में बहन को प्रेम अस्पताल में दाखिल कराया है। आरोपित युवकों और राजकुमार को गिरफ्तार किया जाए। सूचना मिलते ही थाना बापौली प्रभारी एसआइ रामनिवास व एफएसएल टीम ने घटनास्थल का जायजा लेकर खून के नमूने और गोली का खोल बरामद किया। पुलिस आसपास के सीसीटीवी कैमरे की जांच कर हमलवारों का पता लगा रही है। एसआइ रामनिवास ने बताया कि रंजना को गोली मारने के मामले में दो युवकों व राजकुमार के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया है।

रंजना घर में अकेली रहती है। गोली लगने से घायल रंजना ने घर के गेट पर ताला लगाया। गली में शोर मचाया कि उसे गोली मार दी है। पड़ोसियों को बस अड्डे पर छोड़ देने के लिए बोला गया। पुलिस के पचड़े में न पड़ें, इसलिए पड़ोसी मदद के लिए आगे नहीं आए। घायल रंजना करीब 400 मीटर पैदल चलकर अड्डे पर गई और ऑटो में बैठकर अस्पताल पहुंची। पति के अलावा राजमिस्त्री पर भी शक बापौली थाना पुलिस व आसपास के लोगों से घायल रंजना ने बताया कि घर में चिनाई चल रही थी। तीन दिन पहले राजमिस्त्री घर पर आया था और उससे अनबन हो गई थी। उसे शक है कि पति के इशारे पर राजमिस्त्री व बदमाशों ने उसे गोली मारी है। रंजना की इकलौती बेटी करनाल स्थित एक अनाथ आश्रम में रहती है।

एसआइ रामनिवास ने बताया कि आरोपित राजकुमार की पहले बापौली के अड्डे पर मोबाइल फोन की दुकान थी। पांच साल से राजकुमार सोनीपत की तारा कालोनी में रहता है। तीन महीने से पिता मदन और मां कांता भी बेटे के पास रह रहे हैं। घर पर दबिश दी तो माता-पिता मिले। उन्होंने बताया कि बेटा राजकुमार शाम पांच बजे से घर से बाहर है। मोबाइल फोन भी बंद है। आरोपित की गिरफ्तारी के बाद ही पता चल पाएगा कि रंजना को गोली राजकुमार ने मरवाई है या फिर किसी अन्य ने वारदात की है। उधर, प्रेम अस्पताल के संचालक पंकज मुटनेजा ने बताया कि एक गोली रंजना के जिगर को भेदते हुए कमर से बाहर निकल गई। दूसरी गोली भी कमर से पार निकली है। महिला की हालत नाजुक बनी हुई है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button