अनिल विज ने दिया ये बड़ा बयान, 22 खिलाड़ियों को मिलेगी पूरी पुरस्कार राशि

इन खिलाड़ियों को बिना किसी कटौती के जल्द ही पूरी पुरस्कार राशि मिलेगी।

हरियाणा : खेल मंत्री अनिल विज ने शुक्रवार को कहा कि इस साल राष्ट्रमंडल खेलों में पदक जीतने वाले सभी 22 खिलाड़ियों को पूरी पुरस्कार राशि दी जाएगी। पिछले दिनों ही सरकार ने कहा था

कि खिलाड़ियों को अपनी कमाई का एक-तिहाई हिस्सा राज्य की खेल परिषद को देना होगा। हालांकि कई खिलाड़ियों के विरोध के बाद सरकार ने इस फैसले को वापस ले पुर्नविचार करने को कहा था।

विज ने कहा, “मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने इस पर अपनी सहमति प्रदान कर दी है। राज्य सरकार की खेल नीतियों के अनुसार, इन खिलाड़ियों को बिना किसी कटौती के जल्द ही पूरी पुरस्कार राशि मिलेगी।”

इस वर्ष आस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में हुए राष्ट्रमंडल खेलों में भारत के 66 पदकों में से हरियाणा के खिलाड़ियों ने 22 पदक जीते थे। इन 22 पदकों में नौ स्वर्ण, छह रजत और सात कांस्य पदक थे।

खेल मंत्री ने कहा कि खेल नीति के अनुसार, स्वर्ण जीतने वाले राज्य के खिलाड़ियों को ए-वर्ग में सरकारी नौकरी और 1.50 करोड़ रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि रजत पदक जीतने वाले खिलाड़ियों को बी-वर्ग की सरकारी नौकरी और एक करोड़ रुपये की पुरस्कार राशि तथा कांस्य पर कब्जा जमाने वाले खिलाड़ियों को सी-वर्ग में सरकारी नौकरी और 50 लाख रुपये की पुरस्कार राशि मुहैया कराई जाएगी।

इसके अलावा राष्ट्रमंडल खेलों में हिस्सा लेने वाले राज्य के प्रत्येक खिलाड़ी को 7.5 लाख रुपये की सहायता राशि प्रदान की जाएगी। विज ने कहा कि हरियाणा की खेल नीति अपने तरह की पहली नीति है जिसके तहत खिलाड़ियों को रोजगार के साथ-साथ सर्वोच्च पुरस्कार दिया जा रहा है।

उन्होंने कहा, “हरियाणा सरकार राज्य के खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के लिए ऐसे कदम उठाना जारी रखेगी। हमें उम्मीद है कि वे ओलंपिक खेलों में भी देश के लिए पदक लाएंगे।”

प्रमुख खेल सचिव अशोक खेमका की ओर से 30 अप्रैल को जारी अधिसूचना के अनुसार, “खिलाड़ी पेशेवर समारोह और विज्ञापन से मिलने वाले धन का एक-तिहाई हिस्सा राज्य खेल परिषद को देंगे और यह धन राज्य में खेल के और उभरती प्रतिभाओं के विकास में इस्तेमाल किया जाएगा।”

Back to top button