एएनएम भंवरी देवी के पुत्र पर एक विवाहिता ने लगाया दुष्कर्म का आरोप

दुष्कर्म के इस आरोप से एक बार फिर भंवरी का परिवार सुर्खियों में

जोधपुर:राजस्‍थान के जोधपुर के खेड़ापा थाने में एक विवाहिता ने मामला दर्ज कराया है कि एएनएम भंवरी देवी का पुत्र और उसका पति दुष्कर्म करता रहा. लगातार एक साल बलात्कार होने से दु​खी और आत्महत्या का प्रयास करने वाली पीड़िता ने खेड़ापा थाने में मामला दर्ज कराया है.

जोधपुर जिले के बोरुंदा इलाके एक विवाहिता ने पुलिस को दिए अपने बयान में बताया कि उनका पीहर खेड़ापा थाने क्षेत्र के अंतर्गत आता है. वर्ष 2016 में उनकी शादी हुई थी. 22 वर्षीय विवाहिता के मुताबिक वह बीएड कर रही थी.

इसलिए उनका खेड़ापा लगातार आना जाना लगा रहा. दिसम्बर 2020 में ससुर का जोधपुर में ऑपरेशन होना था. पति ने उनको भी जोधपुर बुलाया. साथ नहीं होने पर मुझे कहा गया कि मैं अपने रिश्तेदार अमरचंद के बेटे साहिल के साथ जोधपुर आ जाऊं.

अस्पताल में पुलिस को दिए अपने बयान में विवाहिता ने बताया कि उस दिन रास्ते में सुनसान स्थान पर साहिल ने गाड़ी को रोक दी और पिस्टल के दम पर उनके साथ दुष्कर्म किया. इस दौरान उसने मोबाइल से उसके कुछ फोटो भी खींच लिए. पीड़िता ने पूरे घटनाक्रम से पति और ससुराल पक्ष को अवगत कराया, लेकिन उन्होंने कोई कार्रवाई करने के बजाए बात को दबा दिया.

इसके बाद साहिल लगातार घर आता रहा. बकौल पीड़िता, वह उसके पति के साथ शराब पीता और फिर वहीं उनके साथ दुष्कर्म करता. यह घटनाक्रम दिसम्बर 2020 से जनवरी 2021 तक चला. इसके बाद वह अपने पीहर चली गईं.

कुछ दिन बाद साहिल पीहर आ धमका. लगातार धमकी देता रहा. साथ ही वह बार-बार उनके आपत्तिजनक फोटो भेजता और थोड़ी देर में डिलीट कर देता. उसने धमकियां देनी शुरू कर दीं कि यदि वापस ससुराल नहीं गईं तो उन्‍हें जान से मार देगा.

विवाहिता ने ​बताया कि इससे परेशान होकर उन्‍होंने 18 जून को पीहर में कीटनाशक पीकर जान देने का फैसला किया, लेकिन परिजनों ने समय रहते संभाल लिया और अस्पताल लेकर गए. वहां से उन्‍हें जोधपुर रेफर कर दिया गया. तब से यहां के प्राइवेट अस्पताल में इलाज चल रहा है.

पुलिस ने 24 जून को उनके बयान दर्ज किए और मामले की जांच शुरू की है. खेड़ापा थानाधिकारी जगदीश डूकिया ने बताया कि इस मामले मे पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 498ए, 376 व 376-डी में मामला दर्ज कर जांच शुरू की है. इस मामले की जांच सीओ भोपालगढ़ धर्मेन्द्र कर रहे हैं.

भंवरी देवी का मामला अगस्त 2011 का है. एएनएम भंवरी देवी अचानक गायब हो गईं. उनके पति अमरचंद ने प्रदेश के तत्कालीन मंत्री महिपाल मदेरणा पर पत्नी को गायब कराने का आरोप लगाकर हड़कंप मचा दिया. मामला परत दर परत खुला और एक के बाद एक कर कई किरदार इस कहानी में जुड़ते चले गए, लेकिन भंवरी का कहीं पता नहीं लग पाया.

सीबीआई मामले की जांच कर ही रही थी कि भंवरी देवी और महिपाल मदेरणा की एक सीडी वायरल हो गई. तब से महिपाल मदेरणा के अलावा तत्कालीन विधायक मलखान सिंह व भंवरी के पति अमरचंद सहित 14 लोग जेल में बंद हैं. फिलहाल मामला न्यायालय में विचाराधीन है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button