बीएसपी में 31 मार्च को बनेगा एक और रिकार्ड: क्रूड स्टील का उत्पादन शुरू

नई यूनिवर्सल रेल मिल में लंबी रेलपांत बनाने में होगा उपयोग

भिलाई। 31 मार्च शनिवार का दिन भिलाई इस्पात संयंत्र के नाम एक और रिकार्ड दर्ज हो जाएगा। प्रबंधन 17,266 करोड़ रुपए के आधुनिकीकरण एवं विस्तारीकरण परियोजना के तहत निर्मित स्टील मेल्टिंग शॉप-3 के एक कनवर्टर और कॉस्टर का हॉट ट्रायल करेगा। इसमें बनने वाले क्रूड स्टील का इस्तेमाल नई यूनिवर्सल रेल मिल में लंबी रेलपांत बनाने में किया जाएगा।

शुक्रवार को भी विशेषज्ञों की देखरेख में अधिकारियों और कर्मचारियों की टीम दिन भर ट्रायल-री ट्रायल लेती रही ताकि सुरक्षा और उत्पनादन प्रक्रिया में कोई चूक न हो जाए।
कनवर्टर के एक्सपर्ट जाने जाने वाले संयंत्र के पूर्व अधिशासी निदेशक वर्क्स आरके राठी और के सेल के निदेशक आॅपरेशन पीके दाश के अलावा कई विदेशी विशेषज्ञों की टीम पूरी ट्रायल प्रक्रिया पर नजर रखी है। एसएमएस-1 और 2 से दस-दस अधिकारियों और कर्मचारियों की टीम को एसएमएस-3 में भेजा गया है।

क्या है क्रूड स्टील
लोहा और इस्पात एक ही माने जाते हैं मगर औद्योगिक भाषा में ब्लास्ट फर्नेस में आयरन ओर को कोक एवं अन्य सिंटर उत्पादों के साथ 1400 डिग्री तापमान पर पिघलाने पर लोहा बनता है जिसे हॉट मेटल कहा जाता है।

इस हॉट मेटल को स्टील मेल्टिंग शॉप में इस्पात यानी क्रूड स्टील बनाया जाता है। हॉट मेटल में कार्बन का प्रतिशत 4 से 4.5 प्रतिशत होता है।

advt
Back to top button