21 मई को मनाया जाएगा आतंकवाद विरोधी दिवस

रायपुर : आतंकवाद के कारण आम जनता को हो रहे कष्टों, हिंसा एवं आतंक से राष्ट्रीय हितों पर प्रतिकूल प्रभाव से आम लोगों को अवगत कराने, विशेष रूप से युवाओं को आतंकवाद और हिंसा के मार्ग से दूर रखने के उद्ेश्य से राज्य शासन द्वारा 21 मई को पूरे राज्य में आतंकवाद विरोधी दिवस मनाने का निर्णय लिया गया है।

छत्तीसगढ़ शासन के सामान्य प्रशासन विभाग ने शासन के समस्त विभागों, अध्यक्ष राजस्व मण्डल, समस्त विभागाध्यक्षों, संभाग आयुक्तों और कलेक्टरों को पत्र लिखकर आतंकवाद विरोधी दिवस मनाये जाने के संबंध में दिशा-निर्देश जारी किए हैं।

इस दिन महाविद्यालयों और विश्वविद्यालयों में वाद-विवाद प्रतियोगिता, चर्चाएं, सेमीनार, व्याख्यान आयोजित किए जाएंगे। पोस्टर, पॉम्पलेट, समाचार पत्रों, पत्र-पत्रिकाओं, आकाशवाणी और दूरदर्शन के माध्यम से आतंकवाद और हिंसा के विरूद्ध आम जनता को जागरूक बनाने अभियान चलाया जाएगा।

स्वयंसेवी संगठनों, सामाजिक और सांस्कृतिक संस्थाओं द्वारा सांस्कृतिक समारोह के रूप में जनजागरूकता के कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। सभी सरकारी कार्यालयों, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों और अन्य सार्वजनिक संस्थानों में आतंकवाद विरोधी शपथ ली जाएगी।

Back to top button