देश की मीडिया जगत से अपील अब समय है कि मोदी मीडिया के दाग को मूल से मिटा दिया जाए- विकास उपाध्याय

कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव विकास उपाध्याय ने भास्कर समूह पर छापेमारी को लेकर कहा,सत्य को परेशान तो किया जा सकता है लेकिन पराजित नहीं किया जा सकता।

रायपुर। कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय सचिव विकास उपाध्याय ने कहा, आयकर विभाग ने आज सुबह भारत के प्रमुख मीडिया समूह दैनिक भास्कर के कई ठिकानों पर छापेमारी कर बता दिया है कि मोदी-शाह के इशारे पर नहीं चलने का यही हश्र होगा।मोदी सरकार सच्ची पत्रकारिता से डर गई है। उसका एक मात्र उद्देश्य मोदी मीडिया के सहारे सत्ता पर काबिज रहना है। विकास उपाध्याय ने भारत की पूरी मीडिया से अपील की है कि अब वो समय आ गया है जब मोदी मीडिया होने का जो एक दाग लगा है उसे भारत की मीडिया जगत से मिटा दिया जाए।

विकास उपाध्याय ने कहा

विकास उपाध्याय ने कहा,दैनिक भास्कर की पत्रकारिता सच का पर्याय है और पूरा देश भास्कर के साथ है।सच के साथ है। भास्कर ने पूरे देश में सच को प्रकाशित किया है।उसने ये नहीं देखा कि सत्ता में सरकार किसकी है और यह छत्तीसगढ़ के लिए भी लागू होता है। विकास उपाध्याय ने कहा, कोरोना के दूसरी लहर के दौरान लगातार 6 महीने तक भास्कर ने देश और कोरोना प्रभावित प्रमुख राज्यों में असल हालात को पूरे दमखम के साथ देश के सामने रखा है। गंगा में लाशें बहाए जाने का मामला हो या फिर कोरोना से होने वाली मौतों को छिपाने का खेल, या फिर ऑक्सीजन की कमी को लेकर मचे हाहाकार के बीच लोगों की मौत का मामला।भास्कर ने जनता के सामने सच ही रखा।

विकास उपाध्याय ने कहा,उन्हें जो जानकारी मिल रही है। दैनिक भास्कर समूह के दफ्तरों पर कार्रवाई में प्रवर्तन निदेशालय की टीमें भी शामिल हैं।हो सकता है कि ईडी की टीमें भी हों। यह प्रेस की आज़ादी पर हमला है। विकास उपाध्याय ने कहा,इस छापे को मोदी सरकार की ‘धमकी’ के रूप में देखा जा सकता है और जब-जब पत्रकारिता की आजादी पर हमला हुआ है ऐसी सरकारें ज्यादा समय तक टिकी नही है।विकास उपाध्याय ने भास्कर समूह पर छापे की कड़े शब्दों में निंदा की है और जनता का भरोसा दिलाते हुए कहा है। सत्य को परेशान तो किया जा सकता है लेकिन पराजित नहीं किया जा सकता। भले ही झूठ कितना भी बलवान क्यों न हो, हमेशा असत्य की राह पर चलने वालों की ही हार होती है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button