छत्तीसगढ़

खरीदी केन्द्रों में धान की समुचित व्यवस्था व माॅनीटरिंग हेतु प्रभारी अधिकारी नियुक्त

राजशेखर नायर:

धमतरी: खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में प्रदेश सहित जिले में 01 दिसंबर 2019 से 15 फरवरी 2020 तक प्रदेश शासन द्वारा समर्थन मूल्य पर धान खरीदी की जाएगी। कलेक्टर रजत बंसल ने खरीदी केन्द्रों में धान की समुचित व्यवस्था एवं माॅनीटरिंग के लिए 17 प्रभारी अधिकारी नियुक्त किए हंै।

जारी आदेश के अनुसार धान खरीदी केन्द्र भखारा के लिए सहायक पंजीयक के.के.दीक्षित, शंकरदाह, आमदी के लिए वरिष्ठ सहकारी निरीक्षक संतोष कुमार पाण्डे, भोथली के लिए वरिष्ठ सहकारी निरीक्षक गोपाल वासनिक, भेण्डरी एवं खिसोरा के लिए सहकारिता विस्तार अधिकारी जी.डी.साहा की नियुक्ति प्रभारी अधिकारी के रूप में की गई है।

इसी तरह खरीदी केन्द्र अंवरी, चिंवरी के लिए सहकारिता विस्तार अधिकारी जितेन्द्र नन्दा, बेलरगंाव, सांकरा के लिए नेमीचंद देव, आमदी के लिए सहकारी निरीक्षक के.एल.कुर्रे, गातापार के लिए भुनेश्वर सिंह नेताम, घुटकेल के लिए भूपेन्द्र कुमार उइके, अंवरी के लिए तोषी रात्रे, मेघा के लिए उप अंकेक्षक रोहित सोनकर, कुरूद के लिए संगीता सिन्हा तथा धान खरीदी केन्द्र कुकरेल के लिए सहायक निरीक्षक राकेश चाण्डक को प्रभारी अधिकारी नियुक्त किया गया है।

इसी तरह धान खरीदी केन्द्र गट्टासिल्ली हेतु उप अंकेक्षक श्यामकुमार कर, सेमरा के लिए वेदप्रकाश साहू और सिवनीकला के लिए सहकारी निरीक्षक एस.जी.गोस्वामी को प्रभारी अधिकारी नियुक्त किया गया है।

त्रुटि अथवा अनियमितता के लिए प्रभारी अधिकारी उत्तरदायी

उक्त सभी प्रभारी अधिकारी प्रतिदिन नियमित रूप से खरीदी केन्द्र में उपस्थित रहकर धान उपार्जन एवं परिवहन संबंधी सभी कार्य सम्पादित करेंगे। साथ ही आबंटित समिति में धान उपार्जन कार्य के त्रुटि अथवा अनियमितता के लिए प्रभारी अधिकारी उत्तरदायी रहेंगे। इसके अलावा शासन द्वारा निर्धारित गुणवत्ता की धान खरीदी व सही तौल सुनिश्चित करेंगे तथा धान उपार्जन केन्द्र के लिए निर्धारित बफर लिमिट को ध्यान में रखते हुए परिवहनकर्ता/राइस मिलर्स के नियमित संपर्क में रहकर धान परिवहन अथवा उठाव की निगरानी उनके द्वारा की जाएगी।

आदेश में यह भी कहा गया है कि धान खरीदी की व्यवस्था राशि की भुगतान की स्थिति, नए-पुराने बारदानों के प्रदाय के संबंध में खरीदी केन्द्रों में पदस्थ अमला के द्वारा किसी प्रकार की कोई चूक अथवा त्रुटि की जा रही हो या व्यवस्था बनाने के अवरोध, बाधा उत्पन्न की जा रही हो अथवा शासन के दिशा-निर्देश अनुरूप शासन/जिला कार्यालय द्वारा जारी निर्देशों के विपरीत कार्य किया जा रहा हो तो तत्काल प्राथमिक सूचना संबंधित थाना में दर्ज कराने के निर्देश प्रभारी अधिकारियों को दिए गए हैं।

कलेक्टर ने सभी प्रभारी अधिकारियों को प्रतिदिन आबंटित समिति के उपार्जन केन्द्रों का धान उपार्जन से संबंधित प्रतिवेदन उप पंजीयक सहकारी संस्था धमतरी को प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं।

Tags
Back to top button