छत्तीसगढ़

नौ सिंचाई परियोजनाओं को मिली स्वीकृति : तैतीस सौ हेक्टेयर में मिलेगी सिंचाई सुविधा

रायपुर। राज्य शासन ने विभिन्न जिलों के नौ सिंचाई परियोजनाओं के निर्माण एवं जीर्णोद्धार कार्य के लिए 42 करोड़ 50 लाख 29 हजार रूपए की प्रशासकीय स्वीकृति दी है। इन सिंचाई परियोजनाओं के निर्माण एवं जीर्णोद्धार का कार्य पूर्ण होने पर 3376.64 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई सुविधा उपलब्ध हो सकेगी, साथ ही निस्तारी के लिए पानी उपलब्ध होगा और भू-जल संवर्धन का कार्य भी हो सकेगा।

जल संसाधन विभाग मंत्रालय (महानदी भवन) द्वारा बिलासपुर जिले के विकासखण्ड कोटा के चंापी जलाशय के मुख्य नहर एवं शाखा नहरों में सी.सी. लाईनिंग निर्माण के लिए 23 करोड़ 16 लाख 59 हजार रूपए की प्रशासकीय स्वीकृति दी गयी है। इस कार्य के पूरा होने से 2608 हेक्टेयर क्षेत्र में कृषकों को सिंचाई सुविधा मिल सकेगी। गरियाबंद जिले के विकासखण्ड छुरा स्थित झरझरा व्यपवर्तन योजना के निर्माण के लिए छह करोड़ 90 लाख 55 हजार रूपए की स्वीकृति दी गयी है। योजना से 182 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई सुविधा मिल सकेगी।

रायगढ़ जिले के विकासखण्ड लैलूंगा के ग्राम राताखण्ड में सरलता स्टापडेम निर्माण के लिए एक करोड़ 41 लाख दो हजार रूपए की प्रशासकीय स्वीकृति दी गयी है। स्टापडेम के निर्माण से 12 हेक्टेयर क्षेत्र के कृषकों को सिंचाई सुविधा मिल सकेगी। साथ ही निस्तारी और भू-जल संवर्धन के लिए पानी उपलब्ध रहेगा। विकासखण्ड लैलूंगा के शिव मंदिर के पास खारून नदी पर स्टापडेम सह पुलिया निर्माण के लिए दो करोड़ चार लाख पांच हजार रूपए की प्रशासकीय स्वीकृति दी गयी है।

योजना के पूरा होने से निस्तारी और भू-जल संवर्धन के लिए पानी मिल सकेगा और 25 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई सुविधा उपलब्ध हो सकेगी। दुर्ग जिले के विकासखण्ड दुर्ग की तांदुला परियोजना अंतर्गत डूमरडीह माईंनर नहर लाईनिंग कार्य के लिए एक करोड़ 47 लाख 17 हजार रूपए की स्वीकृति दी गयी है।

इस कार्य के पूरा होने पर 409.64 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई सुविधा मिलेगी। बस्तर जिले के विकासखण्ड बकावंड के ग्राम तोगकोंगेरा में पेटपुल्ली नदी में स्डापडेम निर्माण के लिए दो करोड़ 39 लाख 28 हजार रूपए की स्वीकृति दी गयी है। योजना के पूरा होने से 75 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई सुविधा मिलेगी। बकावंड के ही ग्राम आमागुड़ा (चोलनार) के समीप रायकेरा नाला पर स्टापडेम निर्माण के लिए एक करोड़ नौ लाख 18 हजार रूपए की प्रशासकीय स्वीकृति दी गयी है। योजना के पूरा होने से 45 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई सुविधा उपलब्ध हो सकेगी।

उत्तर बस्तर कांकेर जिले के विकासखण्ड चारामा के ग्राम मरकाटोला में स्टापडेम के निर्माण के लिए दो करोड़ 23 लाख 96 हजार रूपए स्वीकृत किये गये है। योजना के निर्माण से निस्तारी, पेयजल एवं आस-पास के जलस्त्रोतों का स्तर सुधारने के लिए सहायता मिल सकेगी। चारामा के ही ग्राम कसावाही स्टापडेम (प्रधानडोंगरी) निर्माण के लिए एक करोड़ 78 लाख 49 हजार रूपए की स्वीकृति दी गयी है। इस स्टापडेम के निर्माण से 20 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई उपलब्ध हो सकेगी।

Tags
Back to top button