कुंभ: विदेशी यात्रियों की संख्या में 40 प्रतिशत तक की वृद्धि होने की उम्मीद

4 मार्च तक चलेगा कुंभ मेला

प्रयागराज: प्रयागराज में आयोजित जनवरी से मार्च तक चलने वाले कुंभ मेला पर्व 2019 भारत का एक महत्वपूर्ण धार्मिक, शैक्षणिक एवं प्रशासनिक केन्द्र रहा है, प्रयागराज वायु, रेल एवं सड़क मार्ग के द्वारा भारत के सभी बड़े शहरों से जुडा है.

चल रहे कुंभ मेले में इस साल विदेशी यात्रियों की संख्या में 40 प्रतिशत तक की वृद्धि होने का उम्मीद है. वहीं, घरेलू पर्यटकों खासकर युवाओं में भी कुंभ को लेकर खासा आकर्षण देखने को मिल रहा है और इनकी संख्या में भी अच्छी-खासी वृद्धि का अनुमान है, उद्योग से जुड़े जानकारों ने यह बात कही.

कुंभ मेला 15 जनवरी से शुरू हुआ और 4 मार्च तक चलेगा. द अल्टीमेटम ट्रेवलिंग कैम्प (टीयूटीसी) के सह-संस्थापक धुन कोरदो ने बताया कि मुख्य रूप से ब्रिटेन, अमेरिका और शेष यूरोप तथा सिंगापुर समेत सुदूर पूर्व से भी लोग कुंभ मेले में आते हैं. कोरदो ने कहा कि कुंभ में विभिन्न यात्रा कंपनियों द्वारा घरेलू और विदेशी पर्यटकों को तरह-तरह की पेशकश की जाती है.

कोरदो ने कहा, “शिविरों के लिए अच्छी-खासी मांग है और 80 से 85 प्रतिशत तक ये भरे हुए हैं. इसमें भारतीय और विदेशी पर्यटकों का अनुपात 50:50 का है. एक्सपीडिया इंडिया के विपणन प्रमुख मनमीत अहलूवालिया ने कहा कि कुंभ मेला एक बड़ा पर्व है और भारत के साथ विदेशी पर्यटकों को भी आकर्षित करता है.

उन्होंने कहा कि पिछले महीने में, देशभर में बुकिंग में 35-40 प्रतिशत की वृद्धि हुई. दिल्ली, उत्तराखंड, मेघालय, त्रिपुरा, गुजरात जैसे राज्यों से लोगों ने कुंभ के बारे में खोजा (सर्च) है. अंतरराष्ट्रीय स्तर पर, खोज और बुकिंग में 17-20 प्रतिशत की वृदधि हुई है.

Back to top button