आर्चबिशप ने छोड़ा अपना दायित्व

सिडनीः ऑस्ट्रेलिया के आर्चबिशप ने बुधवार को घोषणा की कि वह चर्च के अपने दायित्वों को छोड़ रहे हैं। बाल यौन उत्पीडऩ के मामले को छिपाने के दोषी साबित हुए वह दुनिया के सर्वोच्च पद के चर्च अधिकारियों में से एक है।

एडेलेड आर्चबिशप फिलिप विल्सन (67) पर आरोप था कि उन्होंने 1970 के दशक में पादरी जिम फ्लेचर द्वारा एक लड़के का यौन उत्पीडऩ करने की घटना को छिपाया। आर्चबिशप ने आरोपों से इनकार किया लेकिन इस हफ्ते न्यूकैसल कोर्ट ने उन्हें गंभीर अपराध को छिपाने का दोषी पाया। उन्हें 2 वर्ष तक के कारावास की सजा की हो सकती है। विल्सन ने बुधवार को कहा कि वह चर्च के पद से हट रहे हैं और मजिस्ट्रेट के फैसले पर अपने कानूनी सलाहकारों के साथ मिलकर विचार कर रहे हैं। सजा की अवधि की घोषणा बाद में की जाएगी।

विल्सन ने कहा ,‘‘ किसी भी समय और औपचारिक कदम उठाना जरूरी लगा , जैसे की आर्चबिशप के पद से इस्तीफा देना , तो मैं वह कदम उठाऊंगा। इसमें कोई संदेह नहीं था कि फ्लेचर , जिसकी की अब मौत हो चुकी है , उसने पीटर क्रेग नाम के लड़के का यौन उत्पीडऩ किया था लेकिन मामले की सुनवाई इस बात पर केंद्रित थी कि उस वक्त जूनियर पादरी रहे विल्सन को इस बात की जानकारी थी या नहीं।

new jindal advt tree advt
Back to top button