छत्तीसगढ़

कलेक्टोरेट परिसर में स्थित मंथन सभा कक्ष में मनाया गया सशस्त्र सेना झंडा दिवस

निजी व सहकारी बैंकों को झंडा दिवस पर सहयोग राशि देने की अपील करते हुए पत्र भेजा

विकल्प तललवार/बिलासपुर।

सशस्त्र सेना झंडा दिवस पिछले शुक्रवार को कलेक्टोरेट परिसर में स्थित मंथन सभा कक्ष में मनाया गया। इस दौरान पूर्व सैनिक अपने परिजनों के साथ उपस्थित थे।

सभी पूर्व सैनिकों को बेंच लगाकर सम्मानित किया गया। जिसकी अध्यक्षता कलेक्टर पी.दयानंद ने की।

सशस्त्र सेना झंडा दिवस पर जिला सैनिक कल्याण बोर्ड ने पहली बार जिले की सभी जनपद पंचायतोंए राष्ट्रीयकृत,निजी व सहकारी बैंकों को झंडा दिवस पर सहयोग राशि देने की अपील करते हुए पत्र भेजा था।

साथ ही जिले के 67 विभागों के प्रमुखों को झंडा दिवस पर भूतपूर्व सैनिकों ,उनके परिवारों को मदद करने के लिए आग्रह किया था।

सशस्त्र सेना झंडा दिवस को लेकर सुबह 10ः30 बजे मंथन सभाकक्ष में कलेक्टर पी. दयानंद की अध्यक्षता में जिले के सभी विभागों की बैठक हुई।

जिसमें विभाग के प्रमुखों ने स्वैच्छा से सहयोग राशि दी। बीते वर्ष जिले का राज्य में सबसे अधिक अंशदान एकत्र करने का योगदान रहा। राज्यपाल ने इस योगदान के लिए जिला सैनिक कल्याण बोर्ड को शील्ड देकर सम्मानित किया था।

राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री ने भेजे संदेश: 

राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द एवं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सशस्त्र सेना झंडा दिवस पर अलग-अलग संदेश भेजे है। इसमें देश की रक्षा के लिए सीमाओं पर बहादुरीसे लडऩे वाले शहीदों और सैनिकों के सम्मान के लिए हर वर्ष 7 दिसंबर को यह दिवस मनाया जाता है।

सशस्त्र सेनाओं के आश्रितों के कल्याण और पुनर्वास के लिए झंडा दिवस कोष में उदारतापूर्वक योगदान के जरिए उनके प्रति एकजुटता प्रदर्शित करने का एक उत्तम अवसर है।

जिला सैनिक कल्याण बोर्ड ने जिले के 67 शासकीय, अद्र्धशासकीय, सार्वजनिक उपक्रम, केंद्रीय सरकार के संस्थानों के प्रमुखों को यह पत्र भेजा है। इसमें देश की रक्षा के लिए जान न्यौछावर करने वाले सेना के जवानों के परिवारों की सहायता के लिए सहायता राशि देने अपेक्षा की गई है।

सात जनपद पंचायतों बिल्हा, पेंड्रारोड, गौरेला, मस्तूरी, मरवाही, तखतपुर, कोटा ,मस्तूरी के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को सशस्त्र सेना झंडा दिवस पर सहयोग राशि के लिए पहली बार पत्र भेजे गए है।

लक्ष्य 11ः43 लाख रुपए:

जिला सैनिक कल्याण बोर्ड ने इस बार सशस्त्र सेना झंडा दिवस पर सौ से अधिक विभागों, संस्थानों से 11 लाख 43 हजार रुपए की अंशदान राशि एकत्र करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। यह राशि 31 जनवरी 2019 तक एकत्र की जाएगी।

बैंकों, निजी स्कूलों से है सहयोग की अपेक्षा:

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों, निजी और सहकारी बैंकों को झंडा दिवस पर सहयोग राशि देने के लिए अलग .अलग पत्र भेजे गए है। शहर में तीस से अधिक बैंकों को टोकन ध्वज, कार ध्वज दिए गए है।

Tags