एनकाउंटर में सेना ने लश्कर-ए-तैयबा के टॉप कमांडर नदीम अबरार को किया ढेर

हाइवे पर हमला करने वाले आतंकियों के बारे में सेना को स्पेशल इनपुट मिला था

नई दिल्ली:श्रीनगर के मलूरा पारिंपोरा इलाके में सोमवार की शाम से चल रहे एनकाउंटर में सेना ने लश्कर-ए-तैयबा के टॉप कमांडर नदीम अबरार को मार गिराया है. इसी के साथ दो और आतंकी भी ढेर कर दिए गए हैं.

हालांकि इस एनकाउंटर में CRPF के एक अधिकारी समेत दो जवान घायल भी हो गए हैं. एक अधिकारी ने बताया कि अबरार श्रीनगर बारामुला सीमा पर कई हत्याओं और आतंकी गतिविधियों में शामिल था.

जानकारी के मुताबिक, हाइवे पर हमला करने वाले आतंकियों के बारे में सेना को स्पेशल इनपुट मिला था. इनपुट की गंभीरता को ध्यान में रखते हुए हाइवे के किनारे जम्मू-कश्मीर पुलिस (JKP) और CRPF के संयुक्त नाके लगाए गए थे.

परिमपोरा नाके पर एक गाड़ी को रोका गया और उनसे पहचान पूछी गई. इस दौरान, पीछे की सीट पर बैठे मास्क पहने व्यक्ति ने अपना बैग खोलने की कोशिश की और ग्रेनेड निकाल लिया. ये देखते ही, नाका टीम भी तेजी से हरकत में आई और पिछली सीट पर बैठे व्यक्ति को पकड़ लिया.

ड्राइवर और पिछली सीट पर बैठे व्यक्ति, दोनों को पकड़कर पुलिस स्टेशन ले जाया गया, जहां उसका मास्क उतारने के बाद पता चला कि वह लश्कर-ए-तैयबा का एक टॉप कमांडर आतंकवादी अबरार था. उसे जेकेपी, CRPF और सेना की तरफ से पूछताछ के लिए रखा गया था.

उसके पास से एक पिस्टल और हथगोला भी बरामद किया गया है. जेकेपी, CRPF और सेना की संयुक्त टीमों की तरफ से लगातार पूछताछ करने पर उसने खुलासा किया कि उसने मलूरा स्थित एक घर में अपनी AK-47 राइफल रखी थी.

संदिग्ध घर पर पहुंचते ही शुरू हुई मुठभेड़

उसके इस खुलासे के बाद मलूरा में स्थित उस संदिग्ध घर की उचित घेराबंदी कर हथियार बरामद करने के लिए अबरार को उस घर ले जाया गया. टीम ने कथित हथियार को बरामद करने के लिए जैसे ही घर में प्रवेश किया, तो अबरार के एक सहयोगी, जो एक पाकिस्तानी आतंकवादी है (जिसके बारे में अबरार ने कुछ भी खुलासा नहीं किया) ने टीम पर गोली चला दी.

शुरुआती मुठभेड़ में CRPF के 3 जवान घायल हो गए और तलाशी दल के साथ जा रहे आतंकी अबरार की मुठभेड़ हो गई.

घायल जवानों को बाहर निकाला गया और टीम के बाकी सदस्यों ने मोर्चा संभाला. जेकेपी, CRPF और सेना के जवानों ने उस घर की मजबूती से घेराबंदी की और जवाबी कार्रवाई की गई. बाद में हुई गोलीबारी में घर के अंदर से फायरिंग करने वाला विदेशी आतंकवादी ढेर हो गया और साथ में अबरार भी वहीं मारा गया.

घटनास्थल से दो AK-47 राइफल और गोला-बारूद बरामद किए गए हैं. एक अधिकारी ने बताया कि इलाके में सर्च ऑपरेशन अभी भी जारी है.

एक इस्लामी जिहादी समूह है लश्कर

लश्कर-ए-तैयबा पाकिस्तान में स्थित एक इस्लामी जिहादी समूह है. यह संगठन समूचे दक्षिण एशिया को कट्टरपंथी बनाने में यकीन रखता है. इसकी स्थापना 1987 में मुंबई हमले के मास्टरमाइंड आतंकवादियों में से एक हाफिज सईद ने की थी.

लश्कर पर भारत में सैन्य और नागरिक ठिकानों पर हमला करने का आरोप लगाया गया है, खासकर साल 2001 के भारतीय संसद हमले और 2008 के मुंबई हमलों के. इसे भारत, संयुक्त राष्ट्र और संयुक्त राज्य अमेरिका की ओर सर एक आतंकवादी संगठन के रूप में नामित किया गया है. दिसंबर 2001 में अमेरिका ने इन संगठन को अपनी आतंकी लिस्‍ट में शामिल कर दिया था. वहीं, भारत ने भी इसे एक कानून के तहत बैन कर दिया था.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button