दक्षिण कश्मीर के कुलगाम में सेना का ताबड़तोड़ ऐक्शन, एनकाउंटर में 5 आतंकी ढेर

कुलगाम/श्रीनगर।

दक्षिण कश्मीर के कुलगाम में सेना ने रविवार को एक बड़े ऑपरेशन में पांच आतंकियों को मार गिराया है। 8 घंटे से ज्यादा वक्त तक चली मुठभेड़ में सेना ने इन सभी आतंकियों को ढेर किया है। मारे गए आतंकियों के पास से सुरक्षाबलों ने भारी मात्रा में हथियार, गोला-बारूद और अन्य सामान बरामद किया है।

मिली जानकारी के अनुसार, शनिवार देर रात सेना को केलम इलाके में आतंकियों की मौजूदगी के इनपुट्स मिले थे। इस सूचना के बाद सेना की 9 राष्ट्रीय राइफल्स, जम्मू-कश्मीर पुलिस की एसओजी और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवानों ने केलम गांव की घेराबंदी की। इसके बाद जवानों ने इलाके में सर्च ऑपरेशन शुरू किया। जहां दो घरों में छिपे आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरू की। इस गोलीबारी के बाद जवानों ने जवाबी कार्रवाई करते हुए रविवार सुबह आतंकियों के खिलाफ काउंटर ऑपरेशन शुरू किया।

आतंकियों के पास गोला-बारूद बरामद

सुबह 5 बजे के आसपास शुरू हुए इस ऑपरेशन के 6 घंटे बीतने के बाद सेना ने यहां के दो घरों को उड़ा दिया। इस कार्रवाई में मकान के अंदर छिपे 5 आतंकी मौके पर ही मार गिराए गए, जिसके बाद सुरक्षाबलों ने इलाके में सर्च ऑपरेशन शुरू किया। सर्च के दौरान सेना को यहां सभी आतंकियों के शव के साथ भारी मात्रा में गोला-बारूद और अन्य सामान बरामद हुए। स्थानीय सूत्रों के मुताबिक, मारे गए आतंकियों में एक मोस्ट वॉन्टेड कमांडर भी शामिल हो सकता है, हालांकि सेना या पुलिस ने इसे लेकर अभी कोई जानकारी नहीं दी है।

मुठभेड़ के बाद इलाके में भारी हिंसक प्रदर्शन

आतंकियों से मुठभेड़ के बाद इलाके में भारी हिंसक प्रदर्शन हुए हैं। सूत्रों के मुताबिक, आतंकियों के खिलाफ सेना की कार्रवाई के बीच ही कुछ उपद्रवियों ने ऑपरेशन में खलल डालने के लिए पत्थरबाजी शुरू की थी। इसके बाद सीआरपीएफ के जवानों ने इन उपद्रवियों को खदेड़ने के लिए आंसू गैस के गोले दागे। वहीं भारी पथराव के कारण 4 सीआरपीएफ जवान गंभीर रूप से घायल हुए, जिन्हें तत्काल इलाज के लिए कुलगाम के स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

मुठभेड़ के बाद इंटरनेट और रेल सेवाएं बंद

दक्षिण कश्मीर में रविवार को हुए इस ऑपरेशन के बाद से ही तनाव के हालात बने हुए हैं। कुलगाम में मुठभेड़ की शुरुआत से ही इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगाई गई है। इसके अलावा बनिहाल से बारामुला के बीच संचालित होने के वाली रेल सर्विसेज को भी बंद करने का आदेश दिया गया है।

सूत्रों के अनुसार, इलाके में हिंसा के हालात को देखते हुए सुरक्षा एजेंसियों ने सीआरपीएफ और पुलिस की अतिरिक्त टीमों को यहां तैनात किया है। साथ ही अधिकारियों को स्थितियों पर नजर रखने के निर्देश दिए गए हैं।

Back to top button