सभी कार्यालयों में आग से सुरक्षा के इंतजाम करेंः कलेक्टर

बिलासपुर : जिले के सभी शासकीय कार्यालयों, स्कूलों, महाविद्यालयों में आग से बचाव के लिये सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम करने के साथ-साथ आग और भूकम्प से बचाव के लिये प्रशिक्षण और पूर्वाभ्यास कराने का निर्देश आज टीएल की बैठक में कलेक्टर डॉ.संजय अलंग ने दिया। इन स्थानों के साथ-साथ छात्रावासों, शासकीय महिला गृहों, लोक निर्माण विभाग के भवनों में तथा बाढ़ संभावित 132 चिन्हित गांवों में आपदा प्रबंधन हेतु उपाय एवं पूर्वाभ्यास हेतु भी निर्देशित किया गया।

मंथन सभाकक्ष में आज कलेक्टर द्वारा टीएल बैठक ली गई। बैठक में उन्होंने पी.डब्ल्यू.डी. को फायर स्टेशन का निर्माण प्राथमिकता से करने का निर्देश दिया साथ ही सभी कार्यालयों में आग से बचाव, सुरक्षा, आग लगने की दशा में त्वरित व्यवस्था तथा इसके लिये न्यूनतम जरूरतों के संबंध मंे फायर ऑडिट कराने एवं ऑडिट में जो कमियां आये, उसे दूर करने का निर्देश दिया। जल संरक्षण हेतु रेन वाटर हार्वेस्टिंग का कार्य सभी शासकीय कार्यालयों में, साथ ही स्कूलों एवं छात्रावासों में भी प्रारंभ करने का निर्देश दिया।

स्कूलों में अस्थायी जाति प्रमाण पत्र बनाने हेतु लगाये जायेंगे कैम्प

कलेक्टर ने जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया कि कक्षा 6वीं से 12वीं तक के अनुसूचित जाति, जनजाति एवं पिछड़ा वर्ग के बच्चों को अस्थायी जाति प्रमाण पत्र प्रदान करने का काम समय-सीमा में करें। इसके लिये आवेदन फार्म का वितरण स्कूलों में शीघ्र ही कराना सुनिश्चित करें।

ताकि ग्रीष्म अवकाश के बाद स्कूल खुलते ही जाति प्रमाण पत्र बनाने का काम प्रारंभ हो जाये। सभी एस.डी.एम. को निर्देशित किया कि वे स्कूलों में कैम्प लगाकर जाति प्रमाण पत्र बनाये। साथ ही बच्चों को छात्रवृत्ति वितरण, विकलांग छात्रवृत्ति वितरण, मनरेगा में कार्यरत मजदूरों के बच्चों को छात्रवृत्ति वितरण के लिये संबंधित विभागों को एक माह के भीतर कार्यवाही सुनिश्चित करने कहा।

कलेक्टर ने सभी एस.डी.एम. और तहसीलदारों को निर्देशित किया कि जहां वर्षामापी यंत्र लगे हैं, उनका इसी हफ्ते निरीक्षण करें। उन्होंने सभी नगरीय निकायों में अवशिष्ट प्रबंधन के लिये अनिवार्य रूप से जगह उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। खाद्य विभाग के अधिकारी को निर्देशित किया कि कोई भी राशन दुकान तीन किलोमीटर से ज्यादा दूर न हो। इसके लिये वर्षा ऋतु के पूर्व कार्यवाही सुनिश्चित करें।

हैण्डपम्पों को रिचार्ज करने के लिये हैण्डपम्पों के पास सोख्ता गड्डा बनाने का निर्देश दिया गया। जिले के 13 हजार हैण्डपम्पों के पास यह कार्य किया जायेगा। पटवारी और आर.आई. के कार्यालयों का निरीक्षण रोस्टर बनाने और उसका पालन करने का निर्देश सभी एस.डी.एम. को दिया गया।

बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी रितेश कुमार अग्रवाल, सहायक कलेक्टर धु्रव, अतिरिक्त कलेक्टर बी.एस.उईके, बी.सी.साहू एवं जिले के अन्य प्रशासनिक अधिकारी, विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Back to top button