क्राइमछत्तीसगढ़

सोशल मीडिया में देवी देवताओं पर अभद्र टिप्पणी करने वाला गिरफ्तार

हिंदूवादी संगठनों के अलावा बड़ी संख्या में लोग सुबह सिरगिट्टी थाने पहुंच कर दर्ज कराई एफआईआर,आरोपी गिरफ्तार ।

बिलासपुर : बुधवार की देर रात व्हाट्सअप के एक ग्रुप में ग्राम घठोली थाना – लोरमी के निवासी मोतीलाल काठले के द्वारा हिन्दू देवी देवताओं को लेकर की गई आपत्तिजनक पोस्ट को लेकर गुरुवार से ही बिलासपुर शहर में हंगामा शुरू हो गया। हिंदूवादी संगठनों के अलावा बड़ी संख्या में लोग शुक्रवार सुबह सिरगिट्टी थाने पहुंच गए। जहाँ उन्होंने मोतीलाल के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई

जानकारी के मुताबिक बुधवार की रात को एक व्हाट्सएप ग्रुप में आरोपी ने एक पोस्ट ( मैसज ) किया। इस पोस्ट में देवी देवताओं के खिलाफ कई आपत्तिजनक बाते कही गई थी। इस मैसेज को पढ़कर समाजसेवक , करन गोयल , राजा पांडेय , दीपक सिंह , राम सिंह ,प्रतीक तिवारी ,अभिषेक पांडेय , व अन्य लोगो की भावनाओं को ठेस पहुंचा। जिससे कि शुक्रवार की सुबह होते ही लोग सिरगिट्टी थाने में जुटने लगे । मामले की जानकारी मिलते ही कई हिंदूवादी संगठनों के कार्यकर्ता भी थाने पहुंच गये ।

देखते ही देखते सिरगिट्टी थाने में काफी संख्या में लोग इकट्ठे हो गए ।

-लोग आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की मांग कर रहे थे।

सिरगिट्टी पुलिस ने रंजन सिंह , पिता बजरंग सिंह ,तिफरा यदुनंदन नगर सिरगिट्टी की रिपोर्ट पर प्रकरण की गंभीरता को देखते हुये तत्काल कार्यवाही करते हुए आरोपी की पता तलाश की गई । जो कि मोतीलाल काठले , पिता विशवादाश काठले , ग्राम घठोली , लोरमी जिला – मुंगेली छ.ग का होना पाया गया । तत्पश्चात भादवि की धारा 295 क , के तहत जुर्म दर्ज करते हुए आरोपी मोतीलाल काठले को गिरफ्तार किया गया।

उक्त कार्यवाही में उनि यू एन शांत कुमार साहू , प्र .आर सहेततर कुर्रे , प्रवीण पान्डेय , आर गोवर्धन शर्मा ,एवं सैयद साजिद की भूमिका महत्वपूर्ण रही ।

— समाजसेवको ने की अपील

बिलासपुर शहर के उभरते युवा क्रांतिकारी सोच * करन गोयल ने कड़े सब्दो में चेतावनी देते हुए कहा कि देश मे संविधान और लोकतंत्र सभी के लिये बराबर है सभी को अपने धर्म पालन करने का अधिकार है किसी दूसरे धर्म और हमारे हिन्दू धर्म पर की गई अभद्र प्रकार की टिप्पणी कतई बर्दाश्त नही की जाएगी

ऐसी टिप्पणी समाज मे आपसी भेदभाव पैदा करने के लिए की जाती है जो कि गलत है।
गुरु घासीदास जी को याद करते हुए उनके संदेश को दोहराया कि मनखे मनखे एक समान अर्थात सर्व जाति समाज के लोग एक है कोई भेदभाव नही है ।

अतः जातिगत टिप्पणी नही करने की मांग समाजसेवको के द्वारा की गई ।

Tags
Back to top button