रामायण में राम की भूमिका निभाने वाले अरुण गोविल भाजपा में हुए शामिल

भाजपा महासचिव अरुण सिंह और केंद्रीय मंत्री देबश्री चौधरी ने पार्टी की सदस्यता दिलाई

नई दिल्ली।भारतीय जनता पार्टी के महासचिव अरुण सिंह और केंद्रीय मंत्री देबश्री चौधरी ने दूरदर्शन के मशहूर सीरियल रामायण में राम की भूमिका निभाने वाले अरुण गोविल को पार्टी की सदस्यता दिलाई. अरुण गोविल ने बीजेपी का दामन थामा.

दीपिका और अरविंद ने भाजपा से लड़े चुनाव

बता दें कि रामायण सीरियल में माता सीता की किरदार निभाने वाली दीपिका चिखलिया ने भाजपा के टिकट पर 1991 में चुनाव लड़ा था. उन्होंने गुजरात की बड़ोदा सीट पर जीत दर्ज की थी.

रावण का किरदार निभाने वाले अरविंद त्रिवेदी ने साल 1991 में चुनाव लड़ा था. उस वक्त उन्होंने गुजरात के साबरकांठा सीट से चुनाव जीता था. दारा सिंह भी भाजपा के साथ जुड़े और 2003 से 2009 तक राज्यसभा के नामित सदस्य रहे.

अरुण गोविल पीएम मोदी की नीति से हुए प्रभावित

पार्टी मुख्यालय में अरुण सिंह ने कहा कि अरुण गोविल पीएम मोदी की नीतियों से प्रभावित होकर बीजेपी में शामिल हुए हैं. उन्होंने कहा कि गोविल ने रामायण में भगवान राम की भूमिका निभाई थी. पिछले साल लॉकडाउन में जब शो का फिर से प्रसारण किया गया तो इसे 7.7 करोड़ से ज्यादा लोगों ने देखा.

भगवान श्रीराम हमारे आदर्श

इस मौके पर अरुण गोविल ने कहा कि जय श्रीराम कहने से तृणमूल सुप्रीमो ममता बनर्जी की चिढ़ ने उन्हें भाजपा में शामिल होने के लिए प्रेरित किया. उन्हें समझना चाहिए कि भगवान श्रीराम हमारे आदर्श हैं.

श्रीराम हमारी संस्कृति का प्रतिनिधित्व

गोविल ने कहा कि जय श्रीराम कहने में कुछ भी बुरा नहीं है. यह कोई राजनीतिक नारा नहीं है. यह हमारी संस्कृति और संस्कार का प्रतिनिधित्व करता है.

हर चीज में भाग्य की भूमिका

गौरतलब है कि गोविल ने अभी तक किसी राजनीतिक दल से जुड़ने से बचते रहे थे. इस वक्त राजनीति में आने पर गोविल बोले कि हर चीज में भाग्य की एक निश्चित भूमिका होती है. मेरे कुछ साथी राजनीति में उस वक्त आए थे, जब वे करियर के शीर्ष पर थे. गोविल ने कहा कि मैंने यह कदम तब उठाया है, जब रामायण को ऑफ स्क्रीन हुए लगभग 33 साल हो चुका है.

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button