थप्पड़कांड के बाद केजरीवाल सरकार का नया फैसला

थप्पड़कांड के बाद केजरीवाल सरकार का नया फैसला सामने आया है, जिसके अनुसार "अब हर बैठक की न सिर्फ रिकॉर्डिंग होगी, बल्कि इसका सरकारी वेबसाइट पर लाइव प्रसारण भी होगा.

नई दिल्ली:

थप्पड़कांड के बाद केजरीवाल सरकार का नया फैसला सामने आया है, जिसके अनुसार “अब हर बैठक की न सिर्फ रिकॉर्डिंग होगी, बल्कि इसका सरकारी वेबसाइट पर लाइव प्रसारण भी होगा.

” मुख्य सचिव से मारपीट के आरोप के बाद दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने आब किसिस भी तरह के विवादों से बचने के लिए ये बड़ा फैसला लिया है |

सभी मीटिंग का भी लाइव प्रसारण

केजरीवाल समेत हर मंत्री और अधिकारी की सरकारी बैठकों का लाइव वेबकास्ट किया जाएगा. दिल्ली सरकार की कैबिनेट मीटिंग का भी सरकार की वेबसाइट पर लाइव प्रसारण होगा.

जनता को देंगे हर फाइल की जानकारी

साथ ही सरकार से जुड़ी नीतियों के सभी फाइलों का ब्यौरा भी वेबसाइट पर जनता को प्राप्त हो सकेगी | सरकार की नीतियां, नीतियों से जुड़ी फाइलें, कब किस मंत्री और अधिकारी ने क्या लिखा और कितना समय लगाया, ये सारी जानकारी भी जनता दिल्ली सरकार की वेबसाइट से प्राप्त कर सकती है |

केजरीवाल सरकार का यह फैसला सरकार में बैठकों और नीतियों को लेकर पारदर्शिता बनाए रखने की कोशिश माना जा रहा है|

विधानसभा में करेंगे बजट का प्रावधान

दिल्ली सर्कार शुरू से ही कई अधिकारीयों पर फाइलें दबाने और विलंब करने का आरोप लगाती रही है | अगर देखा जाए सरकार का यह फैसला अधिकारियों पर नकेल के रूप में भी दिख रहा है. दिल्ली सरकार मार्च में विधानसभा में पेश होने वाले बजट में इस बाबत प्रावधान रखेगी.

इधर इस फैसले पर भाजपा ने अपनी प्रतिक्रिया देनी शुरू कर दिया है | बीजेपी दिल्ली सरकार को घेरना भी शुरू कर दिया है | दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष और सांसद मनोज तिवारी ने कहा कि नौ सौ चूहे खाकर बिल्ली हज को चली. उन्होंने कहा कि लाइव टेलीकास्ट तो अंकित के पिता के अपमान का हो चुका है.

आप मुख्यसचिव ने लगाया था पिटाई का आरोप

21 फरवरी को दिल्ली के मुख्यसचिव के आरोप बाद केजरीवाल सरकार और ब्यूरोक्रेसी में तलवारें खिंच गई हैं. दिल्ली से सारे अफसर सरकार के खिलाफ लामबंद हो गए हैं. इस मामले में बीते 6 दिनों में दिल्ली सरकार को काफी विरोध झेलना पड़ रहा है.

जहां अफसरों की लामबंदी से दिल्ली का सारा काम बीते 6 दिनों से प्रभावित हो रहा, वहीं दिल्ली पुलिस लगातार विधायकों पर शिकंजा कसती जा रही है.

सीएम हाउस के CCTV फुटेज जब्त कर चुकी है दिल्ली पुलिस

21 फरवरी की रात का सीसीटीवी फुटेज खंगालने के लिए दिल्ली पुलिस मुख्यमंत्री के घर तक सर्च ऑपरेशन चला चुकी है. आज से आप से 9 विधायकों से दिल्ली पुलिस पूछताछ करेगी. मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री तक से पूछताछ हो सकती है.

1
Back to top button