रेल मंत्री का पदभार ग्रहण कर बोले अश्विनी वैष्णव- ‘भारतीय रेलवे में PM मोदी के विजन को करेंगे लागू’

अश्विनी वैष्णव ने रेल भवन में पदभार ग्रहण करने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का आभार व्यक्त किया।

delhi: रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने गुरुवार को रेल मंत्रालय का कार्यभार ग्रहण करते हुए स्पष्ट कर दिया कि वह भारतीय रेलवे में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विजन को लागू कर पिछड़े से पिछड़े व्यक्ति को भी लाभान्वित करने के लिए काम करेंगे।

अश्विनी वैष्णव ने रेल भवन में पदभार ग्रहण करने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि रेलवे अपने आप में एक बहुत बड़ी जिम्मेदारी है और मुझे यह जिम्मेदारी सौंपने के लिए मैं एक बार फिर दिल की गहराई से प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त करता हूं।

प्रधानमंत्री के विजन में रेलवे की बड़ी भूमिका

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के विजन में रेलवे की बड़ी भूमिका है। प्रधानमंत्री का विजन है कि रेलवे के माध्यम से देश के जन-जन का जीवन परिवर्तन हो। एक आम आदमी, गरीब, वंचित, किसान और पिछड़े से पिछड़े व्यक्ति को भी रेलवे के लाभ मिले। अश्विनी ने कहा कि मैं इस विजन के लिए काम करूंगा और प्रधानमंत्री के विजन को लागू करने की कोशिश करूंगा।

50 वर्षीय अश्विनी ओडिशा से राज्यसभा सदस्य

इस मौके पर रेलवे बोर्ड के चेयरमैन व सीईओ सुनीत शर्मा व बोर्ड के अन्य सदस्यों ने रेल मंत्री को पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किया। नौकरशाह से नेता बने 50 वर्षीय अश्विनी ओडिशा से राज्यसभा सदस्य हैं। उनके पास रेल मंत्रालय के साथ-साथ संचार मंत्रालय, इलेक्ट्रोनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय भी है।

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के उप सचिव रह चुके अश्विनी वैष्णव

अश्विनी वैष्णव का जन्म राजस्थान के जोधपुर में हुआ था। अश्विनी ने सिविल सर्विसेज में 26वीं रेंक हासिल की थी। 1994 बैच के ओडिशा कैडर के पूर्व आईएएस अधिकारी अश्विनी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के उप सचिव भी रह चुके हैं। 2019 में राज्यसभा चुनाव के समय वह भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए थे।

15 वर्षों में विभिन्न महत्वपूर्ण जिम्मेदारियों का निर्वहन किया

वैष्णव ने 15 वर्षों में विभिन्न महत्वपूर्ण जिम्मेदारियों का निर्वहन किया है। जनरल इलेक्ट्रिक और सीमेंस जैसी प्रमुख वैश्विक कंपनियों में महत्वपूर्ण भूमिकाएं निभाई हैं। पेंसिल्वेनिया विश्वविद्यालय से एमबीए और आईआईटी कानपुर से एमटेक किया है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button