एशियन गेम्स 2018 – भारतीय महिला बैडमिंटन टीम के सामने जापान की चुनौती

जकार्ताः इंचियोन में पिछले एशियाई खेलों में कांस्य पदक जीतने वाली भारतीय महिला टीम को 18वें एशियाई खेलों की बैडमिंटन प्रतियोगिता में मुश्किल ड्रा मिला है और उसका पहला मुकाबला जापान जैसी मजबूत टीम से होना है। महिला टीम के मुकाबले पुरूष टीम को शुरूआती राउंड आसान मिला है। पिछले एशियाई खेलों की महिला टीम प्रतियोगिता में भारत और जापान दोनों ने कांस्य पदक जीता था जबकि चीन ने स्वर्ण और कोरिया ने रजत पदक जीता था। टीम प्रतियोगिता में बेस्ट ऑफ फाइव के मुकाबले होते हैं।

भारतीय महिला टीम को क्वार्टर फाइनल में जापान से 20 अगस्त को भिडऩा है। जापान की टीम में अकाने यामागूची और नोजोमी ओकुहारा के रूप में ऐसी दिग्गज खिलाड़ी शामिल हैं जिन्होंने भारतीय दिग्गजों पीवी सिंधू और सायना नेहवाल को पिछले दो वर्षाें में काफी परेशान किया है। यामागूची इस विश्व रैंकिंग में दूसरे और ओकुहारा आठवें स्थान पर हैं जबकि सिंधू तीसरे और सायना 10वें स्थान पर हैं। महिला टीम के मुकाबले पुरुष टीम की शुरुआती राह आसान है और उसे 19 अगस्त को राउंड 16 में मालदीव से भिडऩा है।

किदांबी श्रीकांत और एच एस प्रणय वाली भारतीय टीम को यह मुकाबला जीतने में कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए। भारतीय पुरूष टीम में जहां 10 खिलाड़ी शामिल हैं वहीं मालदीव की टीम चार खिलाड़ियों के साथ उतरी है। भारतीय टीम को यह मुकाबला जीतने के बाद क्वार्टरफाइनल में इंडोनेशिया से भिडऩा पड़ेगा जिसे बाई मिली है। भारतीय पुरूष टीम को पिछले एशियाई खेलों में दक्षिण कोरिया से राउंड-16 में 0-3 से हार का सामना करना पड़ा था और वह क्वार्टरफाइनल में नहीं पहुंच पायी थी।

Tags
Back to top button