असम सरकार ने पेश किया मुख्यमंत्री और विधायकों के वेतन बढ़ाने वाला प्रस्ताव

सोनोवाल सरकार ने मुख्यमंत्री और विधानसभा अध्यक्ष सहित सभी निर्वाचित प्रतिनिधियों का वेतन एक अप्रैल से 50 प्रतिशत तक बढ़ाने का प्रस्ताव दिया है.

असम: सोनोवाल सरकार ने मुख्यमंत्री और विधानसभा अध्यक्ष सहित सभी निर्वाचित प्रतिनिधियों का वेतन एक अप्रैल से 50 प्रतिशत तक बढ़ाने का प्रस्ताव दिया है. इस संबंध में असम विधानसभा में तीन विधेयक पेश किये.

विधानसभा अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का वेतन बढ़ाने के विधेयक में, मौजूदा समय में उनकी तनख्वाह में क्रमश: 50 प्रतिशत और 33.33 प्रतिशत की बढ़ोतरी कि का प्रस्ताव है जिससे कि उनकी मौजूदा तनख्वाह 80,000 रूपये और 75,000 रुपये हैं. जिसे अब बढ़ा प्रतिमाह क्रमश: 1.2 लाख रुपये और 1 लाख रुपये करने का प्रस्ताव दिया गया है.

इसके अलावा संसदीय मदद और व्यय के रूप में 30,000 रुपए का भत्ता भी मिलेगा. मुख्यमंत्री को मौजूदा वेतन 90000 रुपये की तुलना में 1.3 लाख रुपये मिलेगा. इसके अलावा भत्ते का भी प्रस्ताव है. कुल मिलाकर हर महीने 1.64 लाख रूपये मिलेगा. कैबिनेट मंत्रियों और विपक्ष के नेता का वेतन मौजूदा 80000 रुपये से बढ़ाकर 1.1 लाख रुपये किया गया है. सभी विधायकों का वेतन भी मौजूदा 60,000 रुपये प्रतिमाह को बढ़ाकर 80,000 रुपये करने का प्रस्ताव दिया गया है. इसके बाद पूर्व विधायकों की पेंशन बढ़ाने का भी प्रस्ताव दिया गया है.

Back to top button