विधानसभा चुनाव: प्रत्याशियों की खर्च सीमा 16 से बढ़कर 28 लाख हुई

नामांकन के बाद से आयोग रखेगा हिसाब

विधानसभा चुनाव: प्रत्याशियों की खर्च सीमा 16 से बढ़कर 28 लाख हुई

कोरबा. आगामी विधानसभा चुनाव में प्र्रत्याशियों की खर्च सीमा बढ़कर 16 से 28 लाख रूपए कर दी गई है। नामांकन के बाद से आयोग उनके खर्च का हिसाब रखना शुरू कर देगा। हालांकि नामांकन के पहले आयोग संभावित प्रत्याशियों के कार्यक्रम पर भी नजर रखेगा।

कलेक्टोरेट में मीडिया से चर्चा करते हुए कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी मो कैसर अब्दुल हक ने इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारी की जा रही है। सभी पहलुओं पर ध्यान दिया जा रहा है। 18 साल से अधिक उम्र के युवाओं का नाम मतदाता सूची में जोड़े जाने के लिए बूथ स्तर पर पहल की जा रही है। जनवरी से लेकर अब तक 9248 नए वोटर जोड़े गए हैं।

इस बार कुल 18190 युथ वोटर विधानसभा चुनाव में वोट देंगे। पिछले बार विधानसभा चुनाव में प्रत्याशियों के खर्च की सीमा अधिकतम 16 लाख रूपए की गई थी। जिसे चुनाव आयोग ने इस बार बढ़ाकर 28 लाख रूपए कर दिया है। कलेक्टर ने बताया कि वोटर के वोट देते ही एक पर्ची सामने आएगी।

जिससे कई बार होने वाले विवाद की स्थिति में पर्ची से भी गिनती कराई जा सकती है। इसके अलावा दिव्यांग वोटरों के लिए भी अलग से व्यवस्था करने की तैयारी की जा रही है।

ऐसे वोटरों के बूथ देखे जा रहे हैं उन जगहों पर व्हीलचेयर सहित अन्य सामानों की व्यवस्था की जाएगी। कलेक्टर के साथ एडीएम प्रियंका महोबिया, डिप्टी कलेक्टर कमलेश नंदनी साहू भी उपस्थित थीं।

Tags
Back to top button