सीक्रेट मीटिंग पर हार्दिक का ट्वीट, ‘राहुल से नहीं हुई मुलाकात, अगले दौरे पर मिलूंगा’

गुजरात में चुनावी रण अपने चरम पर पहुंच चुका है. युवा पाटीदार नेताओं के सहारे कांग्रेस भारतीय जनता पार्टी को घेरने में लगी है. लेकिन बीते दिन से संशय इस बात पर है कि क्या कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और पाटीदार नेता हार्दिक पटेल की मुलाकात हुई थी.

इस पर उठ रहे सवालों का हार्दिक पटेल ने ट्विटर का जवाब दिया है. उन्होंने लिखा कि ”जो लोग मुझे कांग्रेस का एजेंट कहते हैं, वो खुद बीजेपी के एजेंट हैं. मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता है कि बीजेपी के लोग क्या बोलते हैं.”

हार्दिक ने लिखा कि अपने ह्रदय पर हाथ रखें और बोले कि मैंने कोई गुनाह नहीं किया तो फिर पाँच सितारा होटल के CCTV फ़ुटेज लीक कैसे ??? हार्दिक ने कैशबम वाले मुद्दे पर भी निशाना साधते हुए कहा कि विश्व की सबसे बड़ी मिसकॉल पार्टी को अपना सदस्य बनाने के लिए अब 1करोड़ देना पड़ रहा हैं.

राहुल से मुलाकात पर पेंच
आपको बता दें कि सोमवार को राहुल गांधी अल्पेश ठाकुर की रैली में शामिल होने के लिए गुजरात गए थे. वहां उन्होंने कई पाटीदार नेताओं से मुलाकात की थी. इस दौरान होटल की सीसीटीवी फुटेज के आधार पर स्थानीय मीडिया लगातार कह रहा है कि दोनों नेताओं के बीच में मुलाकात हुई है.

हार्दिक पटेल की तीन शर्तें

हालांकि जो सूत्र राहुल और हार्दिक के बीच हुई मुलाकात की पुष्टि करते हैं उनके मुताबिक हार्दिक पटेल ने पाटीदार समाज की कई शर्तें इस मुलाकात के दौरान कांग्रेस उपाध्यक्ष के सामने रखीं.

advt
Back to top button