अजब-गजब : रात में इस समय शरीर से बाहर निकलती है आत्मा, वैज्ञानिकों का दावा

साइंटिस्ट कहते हैं कि हमारी आत्मा शरीर से बाहर आ सकती है, जिसे सुनकर अद्भुत लगता है, यह एक सामान्य प्रोसेस है, जिसके बारे मे बहुत कम व्यक्ति जानते है। सभी के साथ यह नहीं होता है, लेकिन इसे हर कोई कर सकता है।

जब हम गहरी नींद में होते है, तो हमारे साथ कुछ अजीब चीजें होती हैं। इंसान की नींद 5 चरणों में विभाजित होती है, ये क्रिया नींद के अंतिम चरण में घटना हमारे साथ होती है, हमारी नींद के पहले चरण में सांस तेज हो जाती है, जबकि अंतिम चरण में सास धीमी हो जाती है, इसी बीच हमारी आत्मा हमारे शरीर को छोड़ देती है और कहीं भी जा सकती है।

सुनने में तो आपको यह एक कहानी लग रही होगी, लेकिन यह कोई कहानी नहीं है, बल्कि इस बात को विज्ञान ने इसे साबित कर दिया है। विज्ञान की भाषा में इसे एस्ट्रल प्रोजेक्शन कहा जाता है।

एस्ट्रल प्रोजेक्शन में जब हम गहरी नींद में होते है तो हमारी आत्मा अपने जिस्म से निकल सकती है, यह भौतिक शरीर से अलग होने के साथ है पूरे ब्रह्मांड में यात्रा करने में सक्षम हो जाती है, जिसे सूक्ष्म यात्रा कहा जाता है।

सूक्ष्म यात्रा का विचार कई संस्कृतियों में होता है, जो प्राचीन है। 19वीं शताब्दी मे एस्ट्रल प्रोजेक्शन की आधुनिक शब्दावली को थियोसोफिस्ट द्वारा बनाया और बढ़ावा दिया जा चुका है। जिसका कभी-कभी सपने और ध्यान के साथ तुलना की जाती है।

Back to top button