वंचित वर्ग को अटल जी ने दिलाया शिक्षा का अधिकार : बृजमोहन

स्कूली बच्चों के साथ बृजमोहन अग्रवाल ने मनाया "सुशासन दिवस"

रायपुर।

छत्तीसगढ़ निर्माता पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई जी का जन्मदिन “सुशासन दिवस” पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने स्कूली बच्चों के साथ मनाया। इस अवसर पर अपने निवास में आयोजित संक्षिप्त कार्यक्रम में उपस्थित सामाजिक कार्यकर्ताओं व स्कूली बच्चों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी जी एक संवेदनशील व्यक्तित्व के धनी है।

उन्होंने जब यह महसूस किया की आजादी के 55 साल बाद भी समाज का कमजोर तब का शिक्षा से वंचित हो रहा है, ऐसे समय में उन्होंने सर्व शिक्षा अभियान की शुरुआत की। ताकि भारत का भविष्य उज्ज्वल बन सके।

इस अवसर उन्होंने नूतन स्कूल टिकरापारा में पढ़ने वाले स्कूली बच्चों को स्वेटर व शैक्षणिक सामग्री उपहार स्वरूप भेट किया। यह कार्यक्रम सामाजिक संगठन राष्ट्रीय दिशा मंच द्वारा आयोजित था। इस अवसर पर अग्रवाल ने बच्चों को चॉकलेट खिलाकर उनका मुंह मीठा कराया।

इस दौरान उपस्थित स्कूली बच्चों व गणमान्य नागरिकों को संबोधित करते हुए बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि अटल जी गांव,गरीब और किसानों के सच्चे हितैषी थे। किसानों की तकलीफ को वह भली भांति समझते थे।

शहर तक पहुंच मार्ग की कमी के चलते गांवों का देश हमारा भारत तेज गति से तरक्की नहीं कर पा रहा था। ऐसे समय में अटल जी ने प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना की शुरुआत की।

जिसके फलस्वरूप देश भर में मुख्य मार्ग से गांव तक सड़क तेज गति से बनाई गई। आज ग्रामीण भारत में तरक्की जो दिखती है उसके पीछे भारत रत्न अटल बिहारी जी का सबसे महत्वपूर्ण योगदान है।

अग्रवाल ने कहा कि समाज में रहने वाले कमजोर वर्ग के लोगों की मदद करना हर नागरिक का कर्तव्य है। उन्होंने राष्ट्रीय दिशा मंच की सराहना करते हुए कहा कि पिछले 12वर्षों से यह संगठन इसी प्रकार से समाज की सेवा करते आ रहा है। जो की अन्य लोगों के लिए भी प्रेरणादायक है।

अगर व्यक्ति संगठित होकर लोगों को मदद नहीं कर सकता तो व्यक्तिगत तौर पर भी जरूरतमंदों की मदद करने हाथ आगे बढ़ाये और कमजोर का हाथ थामे।जीवन में इससे बड़ा पुण्य कार्य कोई दूसरा नही है।

इस अवसर पर पूर्व मंत्री भैयालाल राजवाड़े,सुभाष तिवारी,किरोड़ीमल अग्रवाल, मनोज केसरिया,प्रताप पारख, आदित्य चांडक,सुभाष शुक्ला,मोहन सावंत,विजय खंडेलवाल आदि उपस्थित थे।

new jindal advt tree advt
Back to top button