ATM कार्ड उपयोग करना होगा महंगा, जानें वजह…

खत्म हो सकती हैं ये फ्री सेवाएं...

नई दिल्ली : आयकर विभाग ने देश के कुछ बैंकों को नोटिस भेजकर मिनिमम बैलेंस के बदले पेनाल्‍टी पर टैक्‍स माँगा हैं. और इसी तरह से डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड और अन्‍य बैंकिंग सेवाओं के लिए बैंक की ओर से ली जाने वाली राशि भी टैक्‍स की बात कही हैं.

आयकर विभाग ने दिया इन बैंकों को नोटिस

आयकर विभाग ने भारतीय स्टेट बैंक, एच.डी.एफ.सी., आई.सी.आई.सी.आई. बैंक, एक्सिस बैंक और कोटक महिंद्रा बैंक को ग्राहकों की ओर से मिनिमम अकाउंट बैलेंस रखनें पर दी जाने वाली फ्री सर्विसेज के बदले में टैक्स माँगा हैं. डायरेक्टरेट जनरल ऑफ गुड्स ऐंड सर्विसेज टैक्स इंटेलिजेंस ने इन बैंकों को इस मामले में कारण बताओ नोटिस जारी किया. नोटिस को दूसरे बैंकों भेजे जाने की भी खबर हैं.

खत्म हो सकती हैं ये फ्री सेवाएं

अकाउंट में ऐवरेज मिनिमम बैलेंस मेनटेन करने की वजह से आपको कई मुफ्त सेवाएं मिलती हैं लेकिन यदि बैंकों को टैक्स देना पड़ा तो एटीएम ट्रांजैक्शन, फ्यूल सरचार्ज रिफंड, चेक बुक, डेबिट कार्ड आदि की सेवाएं फ्री नहीं मिल पाएंगी.

बता दे की बैंक मिनिमम बैलेंस मेनटेन नहीं करने वाले ग्राहकों से चार्ज लेते हैं उसी पर आयकर विभाग ने बांको से यह टैक्‍स माँगा हैं. बैंकों से पिछले 5 साल का टैक्स मांगा गया है लेकिन बैंकों को चिंता है कि पिछली तारीख से ग्राहकों से टैक्स की मांग नहीं कर सकते. अगर इस टैक्स को बहाल रखा जाता है तो आगे चलकर इसका बोझ ग्राहकों को उठाना पड़ेगा.

new jindal advt tree advt
Back to top button