ऑटो हब बुरी तरह प्रभावित, सरकार को अर्थव्यवस्था की चिंता नहीं -मनमोहन सिंह

भारतीय अर्थव्यवस्था पर चिंता जाहिर करते हुए सिंह ने कहा

नई दिल्ली: अर्थव्यवस्था में मंदी की चर्चा शुरू हो गई है. भारत सहित दुनिया के कई देशों में आर्थिक गतिविधियों में सुस्ती के स्पष्ट संकेत दिख रहे हैं. मोदी के पांच ट्रिलियन के मंसूबे के बरअक्स वर्ल्ड बैंक की रैंकिंग में भारत एक पायदान नीचे खिसक गया है.

वहीं भारतीय अर्थव्यवस्था पर चिंता जाहिर करते हुए भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि मंदी की वजह से महाराष्ट्र पर असर पड़ा है। ऑटो हब बुरी तरह प्रभावित हुआ है। हर तीसरा व्यक्ति बेरोजगार है।

उन्होंने कहा कि आज किसानों की आत्महत्या के मामले में महाराष्ट्र पहले नंबर पर है। निवेशक महाराष्ट्र को छोड़कर अन्य राज्यों में शिफ्ट हो रहे हैं। बता दें कि पिछले महीने भी पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने अर्थव्यवस्था को लेकर चिंता जाहिर की थी।

उन्होंने कहा था कि देश में अर्थव्यवस्था की स्थिति लगातर बिगड़ रही है, मगर सरकार इस पर जरा भी गंभीर नहीं है। आने वाले दिनों में हालात किस हद तक खराब हो सकते हैं, सरकार को इसका अहसास तक नहीं है।

उन्होंने कहा कि सरकार को इस दिशा में तत्काल जरूरी कदम उठाने चाहिए। मनमोहन सिंह ने कहा था कि देश में विकास दर घटकर पांच फीसदी रह गई है। यह 2008 की याद दिलाती है, जब यूपीए सरकार के वक्त अर्थव्यवस्था एकदम घटकर नीचे आ गई थी।

Back to top button