राष्ट्रीय

अयोध्या केस: पाक ने की नफरत फैलाने की कोशिश, भारत ने दिया करारा जवाब

पाकिस्तान ने अयोध्या मामले के फैसले पर नफरत फैलाने वाली टिप्पणी की

नई दिल्ली: अयोध्या भमि विवाद मामले में सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का आदेश दिया है. वहीं अयोध्या में ही किसी दूसरी जगह मस्जिद के लिए भी जगह देने का ऐलान किया है.

वहीं पाकिस्तान ने अयोध्या मामले के फैसले पर नफरत फैलाने वाली टिप्पणी कर दी. जिसके जवाब में भारत ने पाकिस्तान के बयान को ‘अनुचित व निराधार’ बताकर खारिज किया और कहा कि यह एक दीवानी मामला है, जो पूरी तरह से आंतरिक है.

विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, “हम सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर पाकिस्तान की अनुचित व निराधार टिप्पणी को खारिज करते हैं. यह पूरी तरह से भारत का आंतरिक मामला है.” पाकिस्तान की निंदा करते हुए इसमें कहा गया कि फैसला कानून के शासन से संबंधित है और सभी धर्मो व अवधारणाओं का समान आदर करता है.

बयान में कहा गया, “पाकिस्तान में समझ की कमी आश्चर्य की बात नहीं है. उनकी हमारे आंतरिक मामलों पर टिप्पणी की मजबूरी पूरी तरह से नफरत फैलाने की मंशा से है, जो निंदनीय है.”

पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने शनिवार को भारत के सुप्रीम कोर्ट द्वारा अयोध्या भमि विवाद मामले में फैसले पर ‘गंभीर चिंता’ जाहिर की. विदेश कार्यालय के प्रवक्ता ने कहा कि फैसला ‘एक बार फिर न्याय की मांग को कायम रहने में विफल रहा है.’

इसमें कहा गया, “इस फैसले ने तथाकथित भारत के धर्मनिरपेक्षता के दिखावे को साफ कर दिया है कि भारत में अल्पसंख्यक अब सुरक्षित नहीं हैं. उन्हें अपनी आस्था व पूजा स्थलों को लेकर डरना होगा.”

Tags
Back to top button