आयुष मंत्री किरेन रिजीजू ने भारत में आयुर्वेद के नैदानिक परीक्षणों के पंजीयन पोर्टल की शुरुआत की

इस दिशा में यह एक मह्तवपूर्ण कदम है जिससे आयुर्वेद आधारित क्लीनिकल परीक्षणों की जानकारी विश्वभर में मिल सकेगी।

दिल्ली: केन्द्रीय आयुष मंत्री किरण रिजिजू ने आज भारत में क्लीनिकल परीक्षणों के पंजीयन के तहत आयुर्वेद के आंकड़ों के पोर्टल-सीटीआरआई की शुरुआत की। इस दिशा में यह एक मह्तवपूर्ण कदम है जिससे आयुर्वेद आधारित क्लीनिकल परीक्षणों की जानकारी विश्वभर में मिल सकेगी।

पोर्टल की शुरूआत करते हुए रिजिजू ने कहा कि आयुर्वेद और योग भारत की समृद्ध सांस्‍कृतिक विरासत हैं और आयुर्वेद और भारतीय पारंपरिक ज्ञान के बारे में मानसिकता को बदलने की जरूरत है। उन्‍होंने कहा कि लोगों की यह सोच गलत है कि आयुर्वेद वैज्ञानिक नहीं है। राष्‍ट्रीय डिजिटल स्‍वास्‍थ्‍य मिशन के बारे में बातचीत करते हुए श्री रिजिजू ने कहा कि आयुष मंत्रालय इस मिशन में अहम भूमिका निभायेगा।

भारतीय आयुर्विज्ञान परिषद और आयुष मंत्रालय के तहत आने वाले केन्द्रीय आयुर्वेदिक विज्ञान अनुसंधान परिषद ने मिलकर सी टी आर आई पोर्टल विकसित किया है। आयुष मंत्री श्री रिजिजू ने चार और पोर्टलों-अमर, साही, र्ई-मेधा और आरएमआईएस का भी लोर्कापण किया।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button