आयुष्मान भारत योजना :अब इस तारीख तक करा सकेंगे ऑनलाईन पंजीयन

पंजीयन के लिए 178 निजी नर्सिंग होम ने किया आवेदन

रायपुर :आयुष्मान भारत योजना के तहत प्रदेश की 40 लाख गरीब परिवारों को प्रति परिवार प्रतिवर्ष 5 लाख रुपये तक का कैशलेश उपचार की सुविधा प्रदान की जाएगी। योजना के तहत निजी नर्सिंग होम से अधिक आवेदन आने के कारण पंजीयन की अंतिम तिथि 15 जुलाई 2018 तक बढ़ा दी गई है।

पहले यह तिथि 9 जुलाई को निर्धारित किया गया था। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियो ने आज यहां बताया कि अब तक 208 निजी अस्पतालों ने पंजीयन के लिए आवेदन प्रेषित किए है। इसमें से 178 निजी अस्पतालों द्वारा प्रपोजल भी सबमिट कर दिया गया है।

अधिकारियो ने बताया कि आयुष्मान भारत योजना में इन अस्पतालों को मिशन के निर्धारित वेब पोर्टल पर ऑन-लाईन आवेदन करना अनिवार्य है। जो अस्पताल वर्तमान् में राष्ट्रीय एवं मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना अंतर्गत् पंजीकृत हैं उनको मैसेज के माध्यम से रेफरेंस नंबर एवं पासवर्ड प्रदान किया गया है।

रेफरेंस और पासवर्ड नम्बर के जरिए सभी अस्पताल अपना आवेदन/पूर्ण विवरण ऑन-लाईन पोर्टल पर भर सकते हैं। चिकित्सालयों द्वारा ऑन-लाईन पोर्टल पर आवेदन करने के उपरांत शासन द्वारा इन अस्पतालों का पंजीयन के लिए निर्णय लिया जाएगा।

आयुष्मान भारत अंतर्गत् इलाज के लिए पैकेजों की दर सूची राज्य शासन के वेब पोर्टल पर उपलब्ध है। अधिकारियो ने बताया कि योजना के तहत राज्य के 40 लाख गरीब परिवारों को पांच लाख रूपए प्रतिवर्ष, प्रति परिवार स्वास्थ्य लाभ प्रदान किया जाएगा।

मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना का क्रियान्वयन पूर्व की तरह यथावत् जारी रहेगा। मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना में चिकित्सालय पंजीयन एवं क्लेम प्रक्रिया आयुष्मान भारत मिशन के दिशा-निर्देश के अनुसार लागू की जाएगी। इन योजनाओं के लिए पंजीकृत तथा अपंजीकृत अस्पताल पंजीयन के लिए ऑन-लाईन आवेदन कर सकते हैं।

Back to top button