आजम खां का आरोप- मेरी हत्या करना चाहता है रामपुर प्रशासन

रामपुर : समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव आजम खां ने कहा कि प्रशासन उनकी हत्या कराना चाहता है। मतगणना के दिन शहर में कर्फ्यू जैसा माहौल पैदा कर धांधली करना चाहता है। अपर जिलाधिकारी ने मुझ से जान का खतरा बताते हुए पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखा है, यह एक पेशबंदी है।

प्रशासन ने हमारे शस्त्रों के लाइसेंस भी निलंबित कर दिए हैं। ऐसे हथियार रखने से क्या फायदा जो शोपीश बने हों। हमने अपने, अपनी पत्नी और बेटे के लाइसेंसी असलहा बेचने का फैसला किया है। इसके लिए कमिश्नर से परमीशन मांग रहे हैं। परिवार में पांच शस्त्र हैं ।

पूर्व मंत्री आजम खां ने मंगलवार को मीडिया से बातचीत के दौरान आरोप लगाते हुए कहा कि प्रशासन द्वारा लोकतंत्र की धज्जियां उड़ाई गई हैं। दो महीने के अंदर प्रशासन ने ऐसे काम कर दिए हैं जो कभी नहीं हुए। लोगों को डरा धमका कर वोट डालने से रोका गया। 77 हजार लोगों को लाल कार्ड जारी कर दिए गए।

जिला प्रशासन मतगणना में भी धांधली कराने की पूरी कोशिश कर रहा है। जिलाधिकारी के पास हैकिंग मशीन है। डीएम की चौकड़ी में जो एक अपर जिलाधिकारी हैं, उन्होंने मुझसे जान का खतरा बताते हुए एसपी को पत्र लिखा है। उनका यह पत्र पेशबंदी है, दरअसल प्रशासन मेरी हत्या कराना चाहता है।

आजम खां ने बताया कि जिला प्रशासन ने चुनाव के दौरान उनके खिलाफ 16 मुकदमे दर्ज कराए, जिनमें से पांच मुकदमों पर हाई कोर्ट ने आज सुनवाई की , इनमें हमारी गिरफ्तारी पर स्टे दे दिया।

Back to top button