चेकबुक और एटीएम कार्ड जैसी फ्री सेवाओं पर बैक अब वसूलेंगे चार्ज, प्लांनिग शुरू

ज्यादातर बैंक अब ग्राहक से जीएसटी वसूलने पर विचार कर रहे हैं

नई दिल्ली। बैंकों को टैक्स विभाग ने नोटिस भेजा है। ये जीएसटी नोटिस इस साल अप्रैल में बैंकों को भेजे गए 40 हजार करोड़ रुपये के सेवा टैक्स और जुर्माने के नोटिस से अलग है।

टैक्स डिपार्टमेंट की ओर से बैंकों को मिले नोटिस के बाद आगे से चेकबुक और एटीएम कार्ड जैसी फ्री सेवाओं के लिए पैसे देने पड़ सकते हैं।

बैंक अपने ग्राहकों से कुछ सर्विसेज के लिए चार्ज करने की प्लानिंग कर रहे हैं। जीएसटी की वजह से बैंकों की सर्विस महंगी हो सकती हैं। बैंक चेक बुक, एडिशनल क्रेडिट कार्ड, एटीएम कार्ड जैसे सर्विसेज की कीमत वसूल सकते हैं।

अभी खाते में मिनिमम बैलेंस रखने वाले खाता धारकों को यह सेवाएं मुफ्त में मिल रही हैं, लेकिन टैक्स डिपार्टमेंट की ओर से बैंकों को मिले नोटिस के बाद आगे से चेकबुक और एटीएम कार्ड जैसी फ्री सेवाओं के लिए पैसे देने पड़ सकते हैं।

इसके साथ ही बैंक सभी सेवाओं के चार्ज बढ़ा सकते हैं। ये जीएसटी नोटिस इस साल अप्रैल में बैंकों को भेजे गए 40 हजार करोड़ रुपये के सेवा टैक्स और जुर्माने के नोटिस से अलग है।
ज्यादातर बैंक अब ग्राहक से जीएसटी वसूलने पर विचार कर रहे हैं।

Back to top button