दिल्लीराज्य

बाइक और टेम्‍पो में ढोया गया अनाज, CAG रिपोर्ट में घिरी केजरीवाल सरकार

सीएजी कि ताजा रिपोर्ट में दिल्ली में राशन को लेकर गड़बड़ी का ख़ुलासा हुआ है. सीएजी रिपोर्ट के मुताबिक, एफ़सीआई गोदाम से राशन वितरण केंद्रों पर 1589 क्विंटल राशन की ढुलाई के लिए आठ ऐसी गाड़ियों का इस्तेमाल किया गया

नई दिल्ली: सीएजी कि ताजा रिपोर्ट में दिल्ली में राशन को लेकर गड़बड़ी का ख़ुलासा हुआ है. सीएजी रिपोर्ट के मुताबिक, एफ़सीआई गोदाम से राशन वितरण केंद्रों पर 1589 क्विंटल राशन की ढुलाई के लिए आठ ऐसी गाड़ियों का इस्तेमाल किया गया, जिनका रजिस्ट्रेशन नंबर बस, टेंपो और स्कूटर-बाइक का था.

1589 क्विंटल राशन ढुलाई इन गाड़ियों पर इतनी बड़ी मात्रा में नहीं हो सकती. रिपोर्ट में ये भी पता लगा हैं कि, 2016-17 में जिन 207 गाड़ियों को राशन ढुलाई के काम में लाया था, उनमें से 42 गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन ही नहीं हैं. जिसके आधार पर सीएजी ने अपनी रिपोर्ट में आशंका जताई है कि राशन का वितरण हुआ ही नहीं. राशन चोरी कि आशंका को ना नहीं किया जा सकता. इस मामले में सभी डालो ने केजरीवाल सरकार को घेरा हैं. कांग्रेस ने सीबीआई जांच की मांग की है, वहीं बीजेपी ने सरकार पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए है.

केजरीवाल ने ट्विट किया कि “घर-घर राशन की डिलीवरी की योजना को ख़ारिज कर उप राज्यपाल इन चीज़ों को संरक्षण देने की कोशिश कर रहे हैं. पूरा राशन सिस्टम माफ़िया की जद में है, जिन्हें राजनीतिक संरक्षण मिला हुआ है.”आप नेता सौरव भारद्वाज ने मामले पर कहा कि ‘जब जब भ्रष्‍टाचार के मामले विधानसभा में दिए है एलजी ऑफिस ने भ्रष्‍टाचारियों का संरक्षण किया है.’ सीएजी कि रिपोर्ट्स में जो मामले सामने आए हैं, वो सभी पीएसी के अंदर जाएंगे और जिस किसी को मामले में दोषी पाया जायगा उसके खिलाफ मुकद्दमे दर्ज होगा और सीबीआई के अंतर्गत सजा होगी.

Summary
Review Date
Reviewed Item
बाइक और टेम्‍पो पर ढोया गया अनाज, CAG रिपोर्ट में घिरी केजरीवाल सरकार
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *