बलौदाबाजार : कोरोना रोकथाम एवं जन जागरूकता अभियान रोको अउ टोको की हुई जिलें में शुरुआत

कलेक्टर ने हरी झंडी दिखाकर प्रचार वाहन को किए रवाना

बलौदाबाजार ,12 मई 2021 : कोरोना रोकथाम एवं जन जागरूकता अभियान रोको अउ टोको की शुरुआत जिलें में की गई। आज कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने हरी झंडी दिखाकर प्रचार वाहन को रवाना किया।यूनिसेफ छत्तीसगढ़ एवं मीडिया कलेक्टिव फ़ॉर चाइल्ड राइट्स के संयुक्त तत्वाधान में जिला प्रशासन के सहयोग से जिलें में इस अभियान की शुरुआत की गयी है।

मई से जुलाई माह तक तीन महीनों तक यह अभियान सतत रूप से जारी रहेगा। तीन महीने के लंबे अभियान के दौरान यह प्रचार वाहन जिलें के बलौदाबाजार,भाटापारा,कसडोल, बिलाईगढ़ विकासखण्ड मुख्यालय सहित विभिन्न नगरों एवं गांवों के वार्डों में युवा स्वयं सेवक एवं संस्था के सदस्य वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने के सरकार के प्रयासों का समर्थन करेंगे।

वे शहरों में झुग्गियों,अपार्टमेंटों, बाजारों, होटलों, बस स्टैंडों, रेलवे स्टेशनों और चौराहों पर जाकर लोगों को कोविड व्यवहारों के बारे में शिक्षित करेंगे। कोरोना गाइडलाइन नियमों के पालन हेतु आम लोगों को प्रेरित करेंगें। जागरूकता अभियान के अंतर्गत इन व्यवहारों में मास्क पहनना,सामाजिक दूरी छह फीट रखना, साबुन से हाथ धोना और भीड़-भाड़ वाली जगह से बचना है।

कोरोना टीकाकरण

युवा स्वयंसेवक सभी लोगों से कोरोना टीकाकरण करने का आग्रह करेंगे साथ ही लक्षण या बीमारी जैसे कोरोना के मामले में चिकित्सा सहायता लेंगे। ऐसा करते समय जिला प्रशासन द्वारा जारी लॉकडाउन और रोकथाम दिशा निर्देशों का सख्ती से पालन करेंगे। संस्था के स्वयं सेवक लॉकडाउन दिशा निर्देशों का पालन करने के लिए नागरिकों से भी अपील करेंगे।

जिले में इस अभियान के शुरू होने पर मीडिया कलेक्टिव फ़ॉर चाइल्ड राइट्स (एमसीसीआर) के ड़ी.श्याम कुमार ने बताया कि देश के नागरिक होने के नाते हमारा कर्तव्य है कि इस महामारी एवं विपदा के समय मे कोरोना गाइडलाइन सहित टीकाकरण अभियान में प्रशासन एवं शासन का सहयोग करें। जिले में इस अभियान का समन्वय एवं नेतृत्व एमसीसीआर के वरिष्ठ सदस्य अरुण बंटी छाबड़ा करेंगे। इस दौरान गोपाल शर्मा,सुशील छाबड़ा मुकेश साहू,देवेन्द्र भृगु,गुलशन वर्मा आकाश शर्मा सहित संस्था के अन्य सदस्य गण उपस्थित थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button