बलौदाबाजार: सरपंच और सचिव की मिलीभगत, 14वीं और 15वीं वित्त की राशि का किया बंदरबांट

बलौदाबाजार. प्रदेश के ग्राम पंचायतों में 14वीं और 15वीं वित्त की राशि का किस तरह बंदरबांट किया गया है। उसका एक नजारा बलौदाबाजार भाटापारा जिले अंतर्गत सिमगा जनपद के ग्राम पंचायत भटभेरा में देखने को मिलता है। आरटीआई से निकाले गए जानकारी के तहत शिकायतकर्ता ने ग्राम पंचायत के सरपंच और सचिव पर लाखों रुपए का गबन का आरोप लगाया है।

भौतिक सत्यापन में भी जांच टीम ने यह पाया कि प्रस्ताव में जो कार्य कराए गए हैं और जिनका भुगतान भी ले लिया गया है, वह काम कहीं गांव में दिखता ही नहीं। एक पानी टंकी के नाम से 54000 का बिल लगाया गया है जो गांव में बना ही नहीं है। वही वृक्षारोपण के नाम पर लाखों रुपए की हेरा फेरी की गई है साथ ही कुर्सी खरीदी रंग रोगन कुएं में कैपिंग के नाम पर लाखों रुपया का बिल बना कर पैसे का आहरण कर लिया गया है। गांव वालों ने गौठान में मवेशियों के लिए जो पैरा दान किया था उसे भी खरीदी बताकर पैसा ले लिया गया है। जांच अधिकारी ने मौके पर सभी निर्माण कार्य का भौतिक सत्यापन किया।

बता दे, जानकारी के बाद भी महिला सरपंच गांव से नदारद थी वही सचिव द्वारा भी कुछ ठीक-ठाक जवाब नहीं दिया गया और भौतिक सत्यापन को बीच में छोड़कर ही गायब हो गए। जिस पर अधिकारी नाराज हुए और इस सारे मामले की शिकायत अपने उच्चाधिकारियों को देने की बात कही हैं। शिकायतकर्ता जनपद प्रतिनिधि उमा अनंत ने सारे मामले में सरपंच और सचिव के मिलीभगत की आशंका जाहिर करते हुए मामले की शिकायत कलेक्टर से करने की की बात कही हैं। वहीं जांच अधिकारी ने हफ्ते भर में जांच रिपोर्ट प्रस्तुत करने की बात कही है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button