छत्तीसगढ़

2 साल से माना में खड़ा बांग्लादेशी विमान, पार्किंग का किराया हुआ

रायपुर : माना एयरपोर्ट में पिछले 2 साल से बांग्लादेशी विमान जस की तस खड़ा है, जिसका किराया लगभग 80 लाख रुपए तक पहुंच चुका है। इस विमान को अब रनवे से हटाने पर विचार-विमर्श किया जा रहा है। इस संबंध में केन्द्रीय उड्डयन मंत्रालय से मार्गदर्शन भी मांगा गया है।
बांग्लादेश की राजधानी ढाका से ओमान की राजधानी मस्कट जा रहे विमान के इंजन में तकनीकी खराबी आने पर 7 अगस्त 2015 की शाम माना एयरपोर्ट में इमरजेंसी लैंडिंग कराई गई। एयरपोर्ट के इंजीनियर्स तकनीकी खराबी दूर करने में जुटे रहे, लेकिन वह ठीक नहीं हो पाया। तब से यह बांग्लादेशी विमान यहीं खड़ा है, जिसका हर रोज 40 हजार रुपए के हिसाब से पार्किग का किराया लग रहा है। उक्त समय विमान में 170 यात्री सवार थे।
माना एयरपोर्ट के निर्देशक संतोष ढोके ने कहा कि, विमान को यहां से हटाने बांग्लादेशी अथॉरिटी को पत्र लिखा गया। इसको हटाने के लिए अफसरों ने रूचि दिखाई थी और कुछ अफसर इसे देखकर वापस चले भी गए। फिर यह खराब विमान अत्यधिक वजनी होने के बाद से जस की तस वहीं पड़ा है।
उन्होंने कहा कि, बांग्लादेशी विमान को माना एयरपोर्ट में खड़े हुए दो साल से उपर हो गया है। पत्र प्रेषित करने के बाद भी बांग्लोदश की ओर से अब तक कोई इस संबंध में कोई पत्र व्यवहार नहीं हुआ। इस स्थिति में केन्द्रीय उड्डयन मंत्रालय भारत को पत्र व्यवहार कर मार्गदर्शन मांगा जा रहा है। एयरपोर्ट में विमानों की लैंडिंग को देखते हुए इस बांग्लादेशी विमान को रनवे से हटाने पर विचार किया जा रहा, जिससे यहां आने वाले दिनों में किसी प्रकार असुविधा नहीं हो।

Related Articles

Leave a Reply