अंतर्राष्ट्रीय

फोर्स लीव पर भेजा बांग्लादेश का पहला हिंदू चीफ़ जस्टिस

ढाकाः बांग्लादेश की मीडिया में देश के पहले हिंदू मुख्य न्यायाधीश सुर्खियों में हैं और इसकी वजह है उनका एक महीने की छुट्टी पर जाना। कहा जा रहा है कि सरकार के ख़िलाफ एक ऐतिहासिक फ़ैसला देने के बाद उन्हें फोर्स लीव या छुट्टी पर जाने के लिए मजबूर किया गया है। समाचार एजेंसी AFP के मुताबिक़ बांग्लादेश के क़ानून मंत्री अनिसुल हक़ ने इन मीडिया रिपोर्टो को खारिज़ किया है।

उन्होंने कहा कि जस्टिस सिन्हा की गैरमौजूदगी का 16वें संविधान संशोधन पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से कोई संबंध नहीं हैं और वे बीमारी की वजह से छुट्टी पर गए हैं।
लेकिन बांग्लादेश सुप्रीम कोर्ट के बार एसोसिएशन के प्रमुख जोयनुल आबेदिन ने दावा किया कि जस्टिस सिन्हा को छुट्टी पर जाने के लिए मजबूर किया गया है। जस्टिस सुरेंद्र कुमार सिन्हा बांग्लादेश के पहले हिंदू मुख्य न्यायाधीश हैं। उन्होंने 17 जनवरी, 2015 को बांग्लादेश के चीफ़ जस्टिस का कार्यकाल संभाला था।

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *