बांग्लादेश की पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा जिया ने किया आत्मसमर्पण, जमानत मंजूर

बांग्लादेश की पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा जिया ने शुक्रवार को ढाका के एक स्थानीय अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया. उनपर भ्रष्टाचार और मानहानि के मामलों में एक सप्ताह पहले गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया था. आत्मसमर्पण के बाद उनको जमानत मिल गई.

अदालत के एक अधिकारी ने संवाददाताओं से कहा, ‘उनको इस शर्त पर जमानत दी गई है कि भविष्य में देश छोड़ने से पहले उन्हें अदालत को सूचित करना होगा.’
अधिकारी ने कहा कि बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी (बीएनपी) की प्रमुख 72 साल की खालिदा जिया को जमानत के लिए एक लाख टका का मुचलका भी देना पड़ा.

बड़ी संख्या में समर्थकों से घिरीं जिया पुराने ढाका में अदालत परिसर पहुंची और जज के सामने आत्मसमर्पण किया. वह एक दिन पहले ही लंदन से लौटी थीं.
पूर्व प्रधानमंत्री ने बताया खुद को निर्दोष

जमानत देने के बाद अदालत की नियमित सुनवाई में उन्होंने एक घंटे तक वहां मौजूद रही. इस दौरान उन्होंने भ्रष्टाचार के मामलों में खुद को निर्दोष बताया. जज ने अगली सुनवाई के लिए 26 अक्टूबर की तारीख तय की है.

बचाव पक्ष के वकील ने कहा, ‘उन्होंने यह भी दावा किया कि उनके खिलाफ दर्ज किए गए मामले गलत, प्रायोजित और काल्पनिक हैं. यह उन्हें परेशान करने के इरादे से बनाए गए हैं.’
वकील ने बताया कि उन्हें बोलने की अनुमति इसलिए दी गई क्योंकि अदालत ने बयान देने की उनकी याचिका को मंजूर कर लिया था.

Back to top button