बांगो: दुष्कर्म का मामला दर्ज होते ही आरोपी दो घण्टे के भीतर चढ़ा पुलिस हत्थे, शादी का प्रलोभन देकर तीन वर्षों से कर रहा था दैहिक शोषण, धारा 376, 506 के तहत अपराध हुआ दर्ज

कोरबा/बांगो. अपराध व जुर्म को लेकर बांगो पुलिस इन दिनों एक्टिव मोड़ पर है। दैहिक शोषण के एक मामले को लेकर अपराध पंजीबद्ध होते ही महज दो घण्टे के भीतर पुलिस ने आरोपी को धर दबोचने में सफलता पाई है। मामला दर्ज होते ही आरोपी भागने के फिराक में था। आरोपी पर अपराध क्र.210/2021 धारा 376,506 के तहत मामला दर्ज कर माननीय न्यायालय में पेश कर ज्यूडिशियल रिमांड पर भेजा गया है।जिला पुलिस अधीक्षक भोजराम के निर्देशानुसार सभी थाना प्रभारियों व चौकी प्रभारियों को अपराध व जुर्म पर कार्यवाही करने के सख्त निर्देश जारी है।लिहाजा निर्देश के परिपालन में बांगो पुलिस खरी नजर आ रही है।

थाना बांगो क्षेत्र के रहने वाली एक महिला को आरोपी गणेश दास पिता तुलसीदास 30 साल साकिन बांझीआमा चिनवारी पारा थाना बांगो जिला कोरबा के द्वारा दिसंबर 2018 से पीड़िता के घर आकर शादी का प्रलोभन देकर शारीरिक संबंध बनाया और कटघोरा के मोहलैनभांठा में किराए का मकान लेकर शारीरिक संबंध बनाया। आरोपी गणेश दास द्वारा पीड़िता से 17 नवंबर तक शादी का प्रलोभन देकर संबंध बनाया। पीड़िता द्वारा आरोपी गणेश से शादी की बात करने पर अलग अलग समाज का बोलते हुए पीड़िता को जान से मारने की धमकी देने पर पीड़िता के रिपोर्ट पर थाना बांगो में अपराध क्रमांक 210/२०२१ धारा 376,506 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना कार्यवाही में लिया गया। प्रकरण के गंभीरता और संवेदनशीलता को देखते हुए पुलिस अधिक्षक महोदय भोजराम पटेल के निर्देश पर, अतिरिक्त पुलिस अधिक्षक महोदय अभिषेक वर्मा और पुलिस अनुविभागीय अधिकारी ईश्वर त्रिवेदी के मार्गदर्शन में आरोपी गणेश दास को गुरसिया बस स्टैंड में बस से भागने हेतु बस का इंतजार करने की मुखबिर सूचना पर थाना प्रभारी बांगो राजेश पटेल द्वारा हमराह स्टाफ के गुरसिया बस स्टैंड पहुंचकर घेराबंदी कर आरोपी को अभिरक्षा में लाकर थाना लाया गया। आरोपी द्वारा पीड़िता के साथ घटना कारित कर जुर्म स्वीकार करने पर आरोपी को न्यायिक रिमांड प्राप्त करने हेतु श्रीमान जेएमएफसी महोदय न्यायालय, कटघोरा के समक्ष प्रस्तुत कर रिमांड प्राप्त किया गया।

उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी बांगो निरीक्षक राजेश पटेल, प्रधान आरक्षक दाऊद कुजूर, आरक्षक नीलेंद्र तंवर, दुष्यंत गोभिल, खम्मन सिंह, विकास भारद्वाज का महत्वपूर्ण भूमिका रहा।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button