बैंक खाते को हैक कर ट्रांसफर किया ढाई करोड़, मुंबई से दो आरोपियों को किया गिरफ्तार

रायपुर.

हैकिंग के जरिये व्यावसायिक सहकारी बैंक के यस बैंक स्थित खाते से 2 करोड़ 47 लाख रुपये की राशि देश भर के अलग-अलग बैंको के खातों में हंसतारित कर ठगी करने वाले गिरोह के एक विदेशी नाइजीरियन सदस्य सहित 2 आरोपी मुम्बई से गिरफ्तार किए गए है.

थाना देवेंद्र नगर स्थित व्यावसायिक सहकारी बैंक के यस बैंक में दो खातों को हैकरों ने हैक कर 2 करोड़ 47 लाख रुपये की ठगी की गई थी. इस रकम को अलग-अलग बैंकों के 26 खातों में एनईएफटी और आरटीजीएस के माध्यम से ट्रांसफर किया गया था. हैकरों ने 7 और 8 नवंबर को बैंक हॉलिडे होने का फायदा उठाया था. 8 नवंबर को बैंक कर्मचारी के क्लियरिंग के लिए बैंक जाने पर खातों से हैकिंग के जरिये राशि हंसतारित होने की जानकारी मिली.

इतनी बड़ी रकम हैक कर अलग-अलग बैकों खातों में डाले जाने की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए अलग-अलग राज्यो के लिए टीम को रवाना किया. प्रकरण के 3 आरोपी लल्लन सिंह, अजीत राय एवं बिट्टू को पूर्व में गिरफ्तार किया जा चुका है. गिरफ्तार आरोपी राकेश सिंह के खाते से 10 लाख रुपए हंसतारित हुए थे, जिसमे आरोपी ने 8 लाख रुपये निकाल लिए थे. वहीं आरोपी राकेश सिंह ने 20 प्रतिशत कमीशन में गिरफ्तार अन्य विदेशी नाइजीरियन आरोपी के कहने पर अपना खाता उपलब्ध कराया था.

गिरफ्तार विदेशी नाइजीरियन आरोपी का हैकर से सीधा संबंध है. दोनों आरोपियों को मुम्बई से ट्रांजिट रिमांड पर लाया गया है. गिरफ्तार नाइजीरियन ने 3 अलग-अलग नामो से पासपोर्ट बनाकर वर्ष 2009 से मुम्बई में रह रहा है. रायपुर में हुई हैकिंग वाले दिन हैकर ने सूरत स्थित टैक्सटाइल्स कॉपरेटिव बैंक के आईपी एड्रेस को हैक किया व हैकड आईपी से रायपुर के व्यवसायिक सहकारी बैंक में घटना की. अब तक कि जांच में हैकिंग की घटना चाइना से होने की जानकारी मिली है.

1
Back to top button