अंतर्राष्ट्रीयबड़ी खबर

नहीं सुधरेगा पाकिस्तान, हाफिज सईद समेत 5 आतंकियों के बैंक अकाउंट फिर से शुरू

पाकिस्तान की इमरान खान सरकार ने पांच आतंकी सरगनाओं के बैंक अकाउंट (Bank Account) वापस से एक्टिव कर दिए हैं.

इस्लामाबाद. आतंकियों को हमेशा से ही शय देने वाले पाकिस्तान (Pakistan) की हरकतों से तो हर कोई रूबरू है. एक बार फिर से उसने अपना असली चेहरा दिखा ही दिया है. दरअसल, पाकिस्तान की इमरान खान सरकार ने पांच आतंकी सरगनाओं के बैंक अकाउंट (Bank Account) वापस से एक्टिव कर दिए हैं.

जानकारी के मुताबिक इनमें से एक बैंक खाता साल 2008 में मुंबई हमलों का आरोपी हाफिज सईद का भी है. संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की कमेटी की मंजूरी के बाद यह फैसला लिया गया है. बता दें कि पिछले महीने ही पाकिस्तान में एक आतंकी हमला हुआ था उसके बावजूद इमरान सरकार ने पांच आतंकी सरगनाओं के बैंक अकाउंट फिर से शुरू कर दिए हैं.

हाफिज सईद के अलावा लश्कर और जमात के आतंकी अब्दुल सलम भुट्‌टवी, हाजी एम अशरफ, याह्या मुजाहिद और जफर इकबाल के अकाउंट खोल दिए गए हैं. ये सभी यूएनएससी के लिस्टेड आतंकवादी है। हाफिज को मई में कोरोना संक्रमण का खतरा बताकर लाहौर जेल से रिहा कर दिया गया था. बाकी 4 आतंकी फंडिंग के मामले में लाहौर जेल में 1 से 5 साल तक की सजा काट रहे हैं. इनके खिलाफ पंजाब के काउंटर टेररिज्म डिपार्टमेंट ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी. रिपोर्ट्स के मुताबिक हर आतंकी ने UNSC से अपील की थी कि उसके बैंक अकाउंट खोल दिए जाएं ताकि उनके परिवारों का खर्च चल सके.

कौन है हाफिज सईद

हाफिज सईद आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का संस्थापक है. वह पाकिस्तान में जमात उद दावा नामक संगठन चलाता है. 2008 में मुंबई हमले का वह मास्टमाइंड है. इस हमले में 164 लोग मारे गए थे. इसी हमले के बाद अमेरिका ने हाफिज के सिर पर एक करोड़ डॉलर का इनाम घोषित किया था. जानकारी के अनुसार 2006 में मुंबई ट्रेन धमाकों में भी उसका हाथ रहा. वह एनआइए की मोस्ट वांटेड लिस्ट में शामिल है. आतंकी सरगना के दोनों संगठनों को भारत के अलावा अमेरिका, ब्रिटेन, यूरोपीय संघ, रूस और ऑस्ट्रेलिया ने प्रतिबंधित कर रखा है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button