बस्तर में फर्जी दरोगा गिरफ्तार, शौक के लिए सिलवाई थी वर्दी

जगदलपुर।

बस्तर में पुलिसवालों के बीच सालभर से ड्यूटी कर रहे एक फर्जी दरोगा को शनिवार देर रात को गिरफ्तार किया गया। यह व्यक्ति खुद को एसआईटी का सदस्य बताता था। साथ ही अपनी वर्दी पर दो स्टार लगाता था। वायरलेस भी लेकर घूमता था। पुलिस वालों के साथ ही उठता-बैठता था। एक सब इंस्पेक्टर से दोस्ती कर उसके साथ रहने लगा था।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के बस्तर दौरे के दौरान पूरे समय उनकी सुरक्षा में मौजूद रहा। उसने राष्ट्रपति के कार्यक्रम में मंच के पास ड्यूटी भी की थी। कोतवाली टीआई एंब्रोस कुजूर ने बताया कि उसके खिलाफ अलग-अलग धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की गई है।

शौक पूरा करने वर्दी सिलवाई

आरोपी युवक का नाम अमितेश झा (25) है। वह जगदलपुर के हिकमीपारा में रहता है। शुरुआती पूछताछ में अमितेश ने बताया-उसने शौक पूरा करने वर्दी सिलवाई थी।“ अब तक जितने पुलिसवालों से वह मिला उसने अपनी मूल पोस्टिंग कोंडागांव बताई थी। पुलिस ने बताया कि आरोपी कुछ साल पहले तक फोटोग्राफी करता था। फिर वह लोगों को बताने लगा कि उसका चयन पुलिस विभाग में हो गया। इसके बाद वह चंदखुरी पुलिस ट्रेनिंग स्कूल गया। वहां कुछ फोटो खिंचवाए। फिर दो वर्दी सिलवाईं।

इस तरह पकड़ा गया

दरअसल, शनिवार की रात दशहरे की ड्यूटी के दौरान पुलिस के कुछ जवानों को अमितेश के हाव-भाव पर शक हुआ। वह किसी गाड़ी वाले को धमका कर वसूली की कोशिश कर रहा था। संदेह होने पर उन्होंने उससे पूछताछ की, बस इसी के बाद उसके फर्जी एसआई होने का खुलासा हुआ।

पुलिस ने आरोपी के घर से वर्दी बरामद की। बताया जा रहा है कि अमितेश के पास एक वायरलेस भी था। वायरलेस पुलिस विभाग ने ही इश्यू किया था या उसने किसी पुलिसवाले से लिया था, इसकी जांच चल रही है।

Back to top button