बसंतपुर: थाना प्रभारी राजकुमार लहरे का एक और काला करतूत, पुलिस ने 10000 लेकर ₹200 का काटा पर्ची…

ब्युरो चीफ : विपुल मिश्रा संवाददाता : देवकृष्ण पांडे

बसंतपुर. थाना प्रभारी बसंतपुर राजकुमार लहरे का एक और काला करतूत विदित हो रहा है कि दिनांक 14 11 2021 को एक सब्जी वाले पिकअप से मनोज गुप्ता एवं उनके ड्राइवर इकबाल अंसारी निवासी बभनी जिला सोनभद्र उत्तर प्रदेश के द्वारा दो बॉटल शराब बभनी से खरीदकर अंबिकापुर जा रहे थे उसी बीच बसंतपुर थाने में चेकिंग चल रहा था चेक करने पर पिक अप में 2 बोतल शराब मिला पिकअप मालिक मनोज गुप्ता ने बसंतपुर पुलिस को बताया कि मेरे बड़े भाई अंबिकापुर रहते हैं।

आज उनके लड़के का जन्म दिवस है इस अवसर पर कुछ मेहमान आने वाले हैं वहीं से ही दो बॉटल अंग्रेजी शराब लेते आना मेरे बड़े भैया बोले वहां से कुछ कम में मिलता है इसीलिए दो वाटर अंग्रेजी शराब खरीदकर जा रहे थे किंतु बसंतपुर पुलिस एक न सुनी और पिकअप एवं हम दोनों को थाने ग्राउंड के अंदर ले जाया गया और दोनों शराब के बोतल को अपने कब्जे में लेकर ₹20000 का मांग किया गया नहीं देने पर बसंतपुर पुलिस द्वारा जेल में डाल देने एवं पिकअप को राजसात करने की धमकी दिया जिसे मैं इधर से भाड़ा का ₹10000 मेरे पास था मैं बोला कि ₹10000 मेरे पास भाड़ा का है।

उससे ज्यादा नहीं है तब पुलिस 10000 लेकर ₹200 का पर्ची दिया गया और बोला गया कि जल्दी से यहां से जाओ मैं अपना पिक अप थाने से बाहर लेकर आए और अपना आपबीती पत्रकार राम हरी गुप्ता को बताया जो सत्य है सही है लेकिन विडंबना यह है कि बसंतपुर थाना प्रभारी राजकुमार लहरें के द्वारा उत्तर प्रदेश छत्तीसगढ़ बॉर्डर धनवार पर चारा रक्षकों का 24 घंटा ड्यूटी करवाया जाता है किंतु उनके पकड़ में आज तक एक भी कुछ अवैध सामान नहीं पकड़ा गया यह सोचने वाली बात है वहां से कैसे अवैध सामान पार हो जाता है धनवार बॉर्डर पर अवैध उगाही के लिए है आरक्षक तैनात किया गया है सोचने वाली बात है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button